Sri Lanka’s chief selector Graeme Labrooy defends axing of Kusal Mendis for Test series against India
कुसल मेंडिस © AFP

भारत दौरे पर खेली जाने वाली 3 मैचों की टेस्ट सीरीज से बाहर हुए कुसल मेंडिस को लेकर श्रीलंका टीम के मुख्य चयनकर्ता ग्रीम लैब्रोय ने बड़ा बयान दिया है। लैब्रोय का कहना है कि इससे मेंडिस को ही फायदा होगा। मेंडिस को भारत जाने वाली टेस्ट टीम से बाहर करने के बाद श्रीलंकाई क्रिकेट फैंस भड़क गए थे। अपने फैसले का समर्थन करते हुए लैब्रोय ने कहा, “हम उसे पीछे नहीं धकेलना चाहते हैं ना ही हम उसे भारत ले जाकर बेंच पर बिठाना चाहते हैं। इसके बजाय, हमने जो करने की कोशिश की है उससे मेंडिस को कुछ घरेलू क्रिकेट खेलकर अपना आत्मविश्वास फिर से हासिल करने में मदद मिलेगी।”

भारत के खिलाफ 3 मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए श्रीलंका टीम का ऐलान
भारत के खिलाफ 3 मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए श्रीलंका टीम का ऐलान

क्रिकबज से बातचीत में लैब्रोय ने बताया कि अगर मेंडिस भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं तो उनका पूरा करियर खराब हो सकता है। उन्होंने कहा, “वह एक आत्मविश्वासी खिलाड़ी है, उसके लिए आत्मविश्वास ही सब कुछ है। उसके पास सब कुछ है। हम ऐसी कोई भी स्थिति नहीं चाहते जहां वह दो खराब पारियां खेलकर टीम से बाहर हो जाए और अपना आत्मविश्वास खो दे। उसके पास अभी काफी समय है और हम चाहते हैं कि वह महान खिलाड़ी बने। हम उसे अगले 10 साल तक खेलते देखना चाहते हैं।”

बता दें कि श्रीलंका के कोच निक पोथास ने हमेशा ही मेंडिस का समर्थन किया है। पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज में 27 का सर्वाधिक स्कोर बनाने पर भी पोथास ने उनके भारत दौरे पर जाने का समर्थन किया था। हालांकि लैब्रोय पोथास से अलग सोच रखते हैं। उनका मानना है कि चरित्र, खेल भावना सब अच्छी चीजें हैं लेकिन आखिर में इस खेल में रन ही सब कुछ हैं।