Steve Smith is the Best Test player I’ve ever seen: Michael Vaughan
स्टीव स्मिथ (IANS)

अपनी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया को घर में एशेज जिताने के बाद दक्षिण अफ्रीका में न्यूलैंड्स टेस्ट के दौरान हुए बॉल टैंपरिंग विवाद के बाद स्टीव स्मिथ का करियर पूरी तरह पलट गया। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने ना केवल स्मिथ को कप्तानी से हटाया बल्कि उनके अंतरराष्ट्रीय और घरेलू क्रिकेट खेलने पर एक साल का बैन लगा दिया। लेकिन स्मिथ एक साल बाद वापसी कर फिर से एशेज खेलने उतरे और एक बार फिर अपनी बल्लेबाजी से सभी को प्रभावित किया।

हालांकि स्मिथ के लिए इंग्लैंड में वहां के घरेलू दर्शकों के सामने एशेज खेलना काफी मुश्किल रहा। स्मिथ को दर्शकों से लगातार हूटिंग का सामना करना पड़ा लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी। स्मिथ के इस जज्बे की पूर्व इंग्लिश कप्तान माइकल वॉन ने सराहना की। वॉन ने कहा जो दर्शक उसे शतक बनाने पर हूटिंग कर रहे थे, उन्होंने ही उसके लिए खड़े होकर तालियां बजाईं।

टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए इंटरव्यू में वॉन ने कहा, “एजबेस्टन में अपनी पारी के दौरान स्मिथ को क्या सहना पड़ा। ब्रेक के बाद उसकी पहली पारी उतनी ही अच्छी थी जितनी हो सकती थी। ऐसा उसके ऊपर रहे दबाव की वजह से था। जब उसने अर्धशतक बनाया तो लोग उसके खिलाफ हूटिंग कर रहे थे, जब उसने शतक बनाया को वो हूटिंग कर रहे थे। फिर कुछ हफ्ते बाद उन्होंने ओवल में उसे स्टैंडिग ओवेशन दिया क्योंकि उन्हें एहसास हो गया कि इन चार मैचों के दौरान वो टेस्ट क्रिकेट की महानता के गवाह बने।”

ऑस्ट्रेलियाई टी20 स्क्वाड से बाहर हुए तीन बड़े खिलाड़ी

इंग्लैंड के खिलाफ एशेज सीरीज के चार मैचों में 110.57 की शानदार औसत से 774 रन बनाकर स्मिथ ना केवल इस सीरीज बल्कि आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज बने हुए हैं।

स्मिथ के प्रदर्शन के बारे में वॉन ने कहा, “वो सर्वश्रेष्ठ टेस्ट खिलाड़ी है। मैंने इस समय और पहले के सभी महान खिलाड़ियों को देखा है। मुझे लगता है कि स्मिथ सबसे अनोखा और अलग है। जब आप ये सोचते हैं कि उनसने साल 2010-11 में अपना टेस्ट करियर सात नंबर के बल्लेबाज के तौर शुरू किया था जो लेग स्पिन कराता था, ये सभी के लिए एक सबक है कि अलग आप कड़ी मेहनत करेंगे, अपनी जिंदगी एक विषय को समर्पित कर देंगे- उसके लिए वो बल्लेबाज है- तो आप कमाल की चीजें कर सकते हैं।”