Steve Smith: There were times when I didn’t know if I was ever going to play cricket again
स्टीव स्मिथ (Twitter)

बॉल टैंपरिंग मामले में लगे एक साल के बैन और फिर कोहनी की चोट के चलते ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज स्टीव स्मिथ के मन में क्रिकेट के लिए प्यार खत्म हो गया था। पूर्व कप्तान को ये लगने लगा था कि शायद वो फिर कभी क्रिकेट नहीं खेल पाएंगे लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ प्रतिष्ठित एशेज सीरीज के पहले मैच में शानदार शतक जड़ स्मिथ ने धमाकेदार वापसी की।

एजबेस्टन टेस्ट के पहले दिन स्मिथ ने 219 गेंदो पर 144 रनों की बेहतरीन पारी खेलकर मुश्किल में फंसी ऑस्ट्रेलिया को 284 के सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। दिन का खेल खत्म होने के बाद स्मिथ ने कहा, “पिछले 15 महीनों में ऐसा कई बार हुआ जब मुझे पता नहीं था कि मैं फिर कभी क्रिकेट खेल पाउंगा या नहीं।”

स्मिथ ने आगे कहा, “एक समय पर मैने इसके लिए प्यार खो दिया था, खासकर उस समय जब मेरी कोहनी का ऑपरेशन हुआ था।”

17 अगस्त से शुरू होगा भारतीय क्रिकेट का घरेलू सीजन, न्यूट्रल क्यूरेटर बनाएंगे पिच

क्रिकेट के लिए फिर से प्यार जागने का किस्सा याद करते हुए स्मिथ ने कहा, “ये काफी अजीब था, ये वो दिन था, जब मेरी कोहली के ब्रेसेस हटाए गए, मुझे फिर से इसके लिए प्यार मिला। मुझे नहीं पता कि ये क्या था, ये एक ट्रिगर की तरह था जिसने कहा कि ‘मैं फिर से मैदान में जाने के लिए तैयार हूं, मैं खेलना चाहता हूं।”

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने आगे कहा, “और मैं बाहर जाकर ऑस्ट्रेलिया के लिए खेलना चाहता था और लोगों को गर्व महसूस कराना चाहता था औकर वो करना चाहता था जिससे मुझे प्यार है। इससे पहले मेरे अंदर ऐसा भावना कभी नहीं थी। मुझे खेल से बहुत ज्यादा प्यार नहीं था, और ये थोड़ी देर के लिए था। किस्मत से, वो प्यार वापस लौट आया।”

पूर्व कप्तान ने कहा, “मैं वास्तव में इसके लिए आभारी हूं, ऑस्ट्रेलिया के लिए फिर से खेल रहा हूं और मुझे जो पसंद है वो कर रहा हूं।”