Steve Waugh selects his Australian XI for SCG Test against India; Aaron Finch out, Shaun Marsh to open
Aaron Finch (Ggetty Images)

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव वॉ ने भारत के खिलाफ सिडनी में होने वाले चौथे टेस्ट मैच के लिए अपनी ऑस्ट्रेलियाई प्लेइंग इलेवन चुनी है। वॉ के मुताबिक एरोन फिंच को सिडनी टेस्ट से बाहर कर हाल ही में स्क्वाड में शामिल हुए मार्नस लबशायन को मौका दिया जाना चाहिए। वहीं वॉ ने ऑलराउंडर मिशेल मार्श से एडम गिलक्रिस्ट की भूमिका अदा करने की गुजारिश की है।

स्टीन वॉ ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर सिडनी टेस्ट के लिए अपने पसंद की प्लेइंग इलेवन की लिस्ट पोस्ट की है। वॉ की इस प्लेइंग इलेवन के मुताबिक फिंच नहीं बल्कि मार्कस हैरिस के साथ शॉन मार्श सलामी बल्लेबाजी करेंगे।

ये भी पढ़ें:’हर मैच के लिए अपनी सर्वश्रेष्ठ टीम चुने और जीतने पर ध्यान लगाए ऑस्ट्रेलिया’

वॉ ने उस्मान ख्वाजा को तीसरे और ट्रैविस हेड को चौथे नंबर पर ही रखा है। हालांकि पूर्व कप्तान ने मौजूदा ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर पांचवें नंबर पर रखा है।

लेग स्पिनर ऑलराउंडर मार्नस लबशायन वॉ की इस प्लेइंग इलेवन में छठें नंबर पर हैं। बल्कि खराब प्रदर्शन के चलते आलोचना झेल रहे मिशेल मार्श को सातवें नंबर की जिम्मेदारी दी है। अपनी इस पोस्ट के साथ वॉ ने मार्श गिलक्रिस्ट की भूमिका अदा करें हैशटैग का इस्तेमाल किया है।

ये भी पढ़ें:सिडनी टेस्ट नहीं खेलेंगे रोहित शर्मा, स्वदेश लौटने की तैयारी

वॉ ने ऑस्ट्रेलिया टीम के गेंदबाजी अटैक में कोई बदलाव नहीं किया है। तीनों तेज गेंदबाज पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड और स्पिनर नाथन लियोन वॉ की प्लेइंग इलेवन में हैं। साथ ही लियोन की मदद के लिए मिशेल मार्श और मार्नस लबशायन भी होंगे।

स्टीव वॉ के बाद ऑस्ट्रेलिया के कप्तान बने रिकी पोंटिंग ने भी अपनी सीनियर खिलाड़ी से सहमति जताई। पोंटिंग ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से बातचीत में कहा, “मैंने देखा कि लबशायन को स्क्वाड में शामिल किया गया है इसलिए मेरे लिए तो इसका सीधा मतलब है कि फिंच बाहर होगा और उस्मान सलामी बल्लेबाजी करेगा, मैं ऐसा सोचता हूं।”

पूर्व कप्तान ने आगे कहा, “ये तो ऐसा ही दिख रहा है, लबशायन चार नंबर पर बल्लेबाजी करेगा, हेड पांच और मिश मार्श छह पर। मुझे लगता है कि लाइन-अप ऐसा ही होगा। मुझे नहीं लगता कि इसके अलावा कुछ और किया जा सकता है। चयनकर्ता, कोच और कप्तान ने लंबी बातचीत की होगी कि वो क्या चाहते हैं और क्या नहीं। हम देखेंगे कि लाइन-अप कैसा होगा।”