ऑस्‍ट्रेलिया के दिग्‍गज स्पिनर शेन वार्न (Shane Warne) और पूर्व कप्‍तान स्‍टीव वॉ (Steve Waugh) के बीच खराब रिश्‍ते जगजाहिर हैं. अक्‍सर मीडियो में रह-रह कर दोनों के बीच संबंधों को लेकर खबरें आती रही रहती हैं. इस मामले में पहली बार वॉ ने चुप्‍पी तोड़ी है. स्‍टीव वॉ का कहना है कि शेन वार्न जिस तरह से व्‍यवहार करते हैं यह उनकी छवि को दर्शाता है.

साल 1999 में कंगारू टीम के वेस्टइंडीज दौरे के दौरान पहली बार दोनों के बीच खराब रिश्‍तें सुर्खियों में आए थे. उस वक्‍त तत्‍कालीन कप्‍तान वॉ ने वार्न को टीम में नहीं लिया था. सिडनी मॉनिर्ंग हेराल्ड ने वॉ के हवाले से लिखा, “लोग कह रहे हैं कि यह झगड़ा है, लेकिन मेरे लिए दो लोगों के बीच लड़ाई, मैं कभी इसे लेकर नहीं आया इसलिए यह सिर्फ एक इंसान के लिए है.”

ऑस्ट्रेलिया के सबसे सफल कप्तानों में गिने जाने वाले वॉ ने कहा, “उनके बयान उनकी सोच के बारे में बताते हैं. इनका मुझसे कोई लेना देना नहीं है. मुझे यही कहना है.”

वार्न ने हाल ही में स्‍टीव वॉ को सबसे ज्यादा मतलबी क्रिकेटर बताया था. इस मामले में अब वॉ ने पूर्व लेग स्पिनर के बयान पर अपनी प्रतिक्रिया दी है.

वार्न ने कहा था कि 1999 में टीम से मुझे ड्रॉप किए जाने के बाद ही वॉ ने मेरी नजर से सम्‍मान खो दिया था. क्‍योंकि मैं मानता हूं कि कप्‍तानी की कला के अंतर्गत अपने खिलाड़ियों का समर्थन करना भी आता है, जो वॉ नहीं करते थे.

बात दें कि स्‍टीव वॉ की कप्‍तानी में ही ऑस्‍ट्रेलिया ने साल 1999 में विश्‍व कप पर कब्‍जा किया था. यह दूसरा मौका था जब कंगारू टीम विश्‍व कप जीत पाई थी.