डेविड वॉर्नर और स्टीवन स्मिथ © Getty Images
डेविड वॉर्नर और स्टीवन स्मिथ © Getty Images

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ और स्टार सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने कहा कि उनकी चार दिवसीय टेस्ट मैचों में खेलने की कोई इच्छा नहीं है जो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट प्रमुखों के लिये करारा झटका है जिन्होंने इसका विचार दिया था। इस महीने ऑकलैंड में बोर्ड बैठक में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने टी20 की बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए पांच दिवसीय फॉर्मेट के दर्जे को बरकरार रखने के लिये लंबे समय के इंतजार के बाद नौ देशों की टेस्ट चैम्पियनशिप की योजना का खुलासा किया।

स्मिथ ने क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू से इंटरव्यू में कहा, ‘‘मैं व्यक्तिगत रूप से पांच दिन पसंद करूंगा इसलिये मैं इसे पांच ही दिन रखना चाहूंगा। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘जिस तरह से पारंपरिक रूप से टेस्ट क्रिकेट खेला जाता है, मुझे लगता है कि यह शानदार है जब आप पांचवें दिन पहुंचते हो और अंतिम घंटे में पहुंचते हो तो मुझे लगता है कि यह खेल का सचमुच सबसे अच्छा हिस्सा है। ’’ वॉर्नर ने भी इसी वेबसाइट से कहा, ‘‘मेरी चार दिवसीय क्रिकेट में कोई दिलचस्पी नहीं है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘टेस्ट मैच क्रिकेट में इतने उतार चढाव होते हैं, जिसमें मौसम भी होता है, कुछ मैच तीन दिन में ही खत्म हो जाते हैं लेकिन जब मौसम खराब होता है तो मैच को खराब करने में सिर्फ एक दिन का समय लगता है।

कम सैलरी की वजह से पिच फिक्सिंग कर रहे हैं क्यूरेटर?
कम सैलरी की वजह से पिच फिक्सिंग कर रहे हैं क्यूरेटर?

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने चार दिवसीय टेस्ट को ट्रायल के तौर पर मंजूरी दी है। पहला चार दिवसीय टेस्ट दक्षिण अफ्रीका और जिम्बाब्वे के बीच 26 दिसंबर को खेला जाएगा। आपको बता दें द.अफ्रीका के कप्तान कप्तान फाफ डु प्लेसी 4 दिवसीय टेस्ट के खिलाफ हैं। उनका कहना है कि रोमांचक टेस्ट मैच पांचवें दिन तक ही खिंचते हैं। डुप्लेसी के मुताबिक चार दिन का टेस्ट आसान होगा जो कि सही नहीं है। (पीटीआई के इनपुट के साथ)