Steven Smith, David Warner should be allowed to play sheffield Shield, says Darren Lehmann
David Warner and Steven Smith (File photo) © Getty Images

केपटाउन टेस्‍ट के दौरान सामने आए बॉल टैंपरिंग विवाद के बाद क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया ने तत्‍कालीन कप्‍तान स्‍टीवन स्मिथ और उपकप्‍तान डेविड वार्नर पर 1-1 साल का बैन लगा दिया। वहीं, बल्‍लेबाज कैमरून बैनक्रॉफ्ट पर भी नौ महीने का बैन लगा। बैनक्रॉफ्ट पर लगे बैन की अवधि दिसंबर के अंत में खत्‍म हो रही है।

ऑस्‍ट्रेलियाई टीम के पूर्व कोच डेरेन लेहमन का मानना है कि तीनों खिलाड़ियों को ऑस्‍ट्रेलिया के घरेलू सीजन शेफील्‍ड शील्‍ड में खेलने की इजाजत मिलनी चाहिए। ब्रिसबेन में यूनिवर्सिटी ऑफ क्‍वींसलैंड क्रिकेट ब्रेकफॉस्‍ट के दौरान डेरेन लेहमन ने कहा, “अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में तीनों को एक साल के लिए बैन करने से मुझे कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन कम से कम उन्‍हें घरेलू क्रिकेट खेलने की इजाजत मिलनी चाहिए।”

उन्‍होंने कहा, “मैंने देखा कि सिडनी में क्‍लब क्रिकेट खेलने के दौरान इन खिलाड़ियों को तीन से पांच हजार लोग देखने के लिए आए थे। मुझे समझ नहीं आता कि क्‍यों इन्‍हें घरेलू टूर्नामेंट शेफील्‍ड शील्‍ड में खेलने नहीं दिया जा रहा है।” जिस समय बॉल टैंपरिंग की घटना हुई तब डेरेन लेहमन ऑस्‍ट्रेलिया की टीम के कोच थे। इस घटना में उनकी कोई भूमिका नहीं थी। हालांकि इसके बावजूद भी उन्‍हें पद से इस्‍तीफा देना पड़ा था।

लेहमन ने कहा, “मुझे लगता है कि अगर उन्‍हें अभी घरेलू क्रिकेट खेलने की इजाजत दी जाएगी तो बैन के तुरंत बाद शुरू हो रहे विश्‍व कप में ये खिलाड़ी खेलने की स्थिति में होंगे। विश्‍व कप के बाद एशेज सीरीज भी होनी है, जिसमें ये अहम भूमिका निभा सकते हैं। आप इनसे बैन के तुरंत बाद आकर अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में अच्‍छे प्रदर्शन की उम्‍मीद नहीं कर सकते हो। ये खिलाड़ी अगस्‍त-सितंबर तक आते-आते पहले जैसे खेलने की स्थिति में होंगे। ऐसे में इनपर एक तरह से 18 महीने के बैन जैसी स्थिति होगी।”

हाल ही में खिलाड़ियों की संस्‍था ऑस्‍ट्रेलियन क्रिकेट एसोसिएशन ने स्मिथ, वार्नर और बैनक्रॉफ्ट पर लगे बैन को हटाने के लिए क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया से अपील की थी, जिसे खारिज कर दिया गया। ये खिलाड़ी ऑस्‍ट्रेलिया में घरेलू सीजन भी नहीं खेल सकते हैं।