भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान सुनील गावस्‍कर (Sunil Gavaskar) ने रणजी ट्रॉफी टूर्नामेंट (Ranji Trophy Tournament) के दौरान इंडिया ए टीम का न्‍यूजीलैंड दौरा करने पर बीसीसीआई की जमकर आलोचना की.

मिड डे अखबार से बातचीत के दौरान सुनील गावस्‍कर (Sunil Gavaskar) ने कहा, “हम समझ सकते हैं कि आईसीसी के फ्यूचर टूर प्रोग्राम (FTP) को देखते हुए अंतरराष्‍ट्रीय मैचों को रणजी ट्रॉफी टूर्नामेंट के दौरान नहीं टाला जा सकता है. इस दौरान इंडिया ए टीम का टूर कराने से यह साफ होता है कि हम रणजी ट्रॉफी के महत्‍व को कम कर रहे हैं.”

गावस्‍कर ने कहा, “इस वक्‍त आईसीसी अंडर-19 विश्‍व कप (ICC U-19 World Cup 2020) भी चल रहा है. ऐसे में बड़ी संख्‍या में हमारे जूनियर चैंपियन खिलाड़ी भारत में नहीं हैं. वो अपने राज्‍य की रणजी टीम को नॉकआउट स्‍तर तक पहुंचाने के लिए मौजूद नहीं हैं. वो साउथ अफ्रीका में विश्‍व कप लाने के लिए खेल रहे हैं.”

सुनील गावस्‍कर (Sunil Gavaskar) ने उस दलील को भी पूरी तरह से नकार दिया जिसमें कहा जा रहा था कि सीनियर टीम के दौरे से पहले जूनियर टीम के उस देश में खेलने से चोटिल खिलाड़ियों का विकल्‍प आसानी से मिल जाता हैं.

उन्‍होंने पूछा, “आईपीएल के दौरान इंडिया ए और अंडर-19 टीम के टूर क्‍यों नहीं कराए जाते हैं. आज भारतीय क्रिकेट जहां भी है उसका कारण फैन्‍स, मीडिया और स्‍पोंसर्स हैं. यह प्रशसकों की जिम्‍मेदारी है कि वो क्रिकेट को ठीक से आगे बढ़ाने के लिए अपनी जिम्‍मेदारी उठाए.”