Sunil Gavaskar: It is not India’s fault that Smith and Warner have not been selected
Steve Smith, David Warner (Getty Images)

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया की धरती पर सीरीज में 2-1 से ऐतिहासिक जीत दर्ज की। दोनों टीमों के बीच 71 साल लंबे टेस्‍ट क्रिकेट के इतिहास में पहली बार टीम इंडिया ऑस्‍ट्रेलिया को उन्‍हीं की धरती पर हरा पाने में सफल रही है। पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने उन आलोचकों को करारा जवाब दिया है जो कमजोर ऑस्ट्रेलियाई टीम की बात कहकर भारत की जीत को कम आंकने की कोशिश कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने वाले पहले भारतीय कप्तान कोहली

भारत ने चार मैचों की सीरीज 2-1 से जीती जो उसकी ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर टेस्ट सीरीज में पहली जीत है। ऑस्ट्रेलिया ने चार मैचों की सीरीज में लचर प्रदर्शन किया और अगर मौसम खराब नहीं होता तो भारत 3-1 से सीरीज जीत सकता था।कहा जा रहा है कि गेंद से छेड़छाड़ के कारण बैन झेल रहे स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की अनुपस्थिति के कारण भारत को ये जीत मिली लेकिन गावस्कर ने इसे मानने से इंकार कर दिया।

गावस्कर ने मैच के बाद सोनी सिक्स पर कार्यक्रम में कहा, ‘‘ऑस्ट्रेलियाई टीम अगर डेविड वार्नर और स्टीव स्मिथ के बिना खेली तो ये भारत की गलती नहीं है। ऑस्ट्रेलिया उन पर कम अवधि का बैन लगा सकता था लेकिन निश्चित तौर ये माना गया कि एक साल का बैन ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के लिए अच्छा साबित होगा क्योंकि वो एक उदाहरण पेश करना चाहते थे। भारत के सामने जो टीम उतारी गई वो उससे खेला और ये बहुत बड़ी उपलब्धि है।’’

ये भी पढ़ें: टीम इंडिया के ऑस्ट्रेलिया में इतिहास रचते ही खुशी से झूम उठे भारतीय फैंस

गावस्कर के अनुसार कोहली की टीम और पूर्व की टीमों में मुख्य अंतर फिटनेस का है। उन्होंने कहा, ‘‘हम भी जीत के लिए खेले थे लेकिन फिटनेस के मामले में ये टीम अलग स्तर पर है और कप्तान इसमें उदाहरण पेश करता है। हमारे समय में हम निजी तौर पर अपनी फिटनेस पर ध्यान देते थे।’’