Sunil Gavaskar: Sports should be made more affordable and a part of school curriculum
Sunil-Gavaskar-©-CricketCountry

दिग्गज क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने शुक्रवार को कहा कि खेलों को लोगों की पहुंच के दायरे में लाना चाहिए तथा उसे स्कूली पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाया जाना चाहिए।

पढ़ें: मोफू के ‘चौके’ और मासाकाद्जा के अर्धशतक से जीता जिम्बाब्वे

गावस्कर ने कहा, ‘भारत का सबसे मजबूत पक्ष उसकी जनसंख्या है। यहां चैंपियन ढूंढना मुश्किल नहीं है। मैं यह नहीं कह रहा हूं कि जरूरी नहीं कि वह स्वर्ण पदक विजेता ही हो।’

उन्होंने कहा कि खेलों में आगे बढ़ने के लिए तीन चीजें जरूरी हैं।

पढ़ें: 100 से अधिक गोल्फरों को पछाड़ कपिल देव बने चैंपियन

गावस्कर ने कहा कि पहला काम खेलों को लोगों की पहुंच के दायरे में होगा। उन्हें स्कूली पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाना होगा जहां खिलाड़ी को कुछ भत्ते मिलें। इसके अलावा खेलों को करियर के रूप में बढ़ावा देना चाहिए।

600 बच्चों के दिल के ऑपरेशन में सहयोग कर रहे हैं गावस्कर

गावस्कर ‘हर्ट टू हर्ट फाउंडेशन’ के साझेदार के तौर पर भारत में वंचित वर्ग के 600 से अधिक बच्चों के दिल के ऑपरेशन में सहयोग कर रहे हैं।

ये आपरेशन भारत में सत्यसाई संजीवनी अस्पताल में किए जाएंगे जिसने हाल में 2012 से लेकर अब तक 10,000 मुफ्त ऑपरेशन करने का कीर्तिमान बनाया था। इनमें से 400 ऑपरेशन के लिए एच2एच फाउंडेशन ने धन मुहैया कराया था। इनमें से 34 ऑपरेशन के लिए विशेष तौर पर गावस्कर ने धन दिया था।