विराट कोहली और एम एस धोनी © AFP
विराट कोहली और एम एस धोनी © AFP

वेस्टइंडीज के खिलाफ चौथे वनडे में भारतीय टीम की हार के बाद एम एस धोनी को आलोचनाओं का शिकार होना पड़ रहा है। आलोचकों का मनना है कि धोनी की बेहद धीमी पारी के कारण ही टीम इंडिया को वेस्टइंडीज से हार झेलनी पड़ी लेकिन अब भारत के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर धोनी के बचाव में आ गए हैं। गावस्कर का मानना है कि हार का ठीकरा सिर्फ धोनी पर फोड़ना सही नहीं है। वेस्टइंडीज के खिलाफ चौथे वनडे में हार के लिए पूरी टीम जिम्मेदार है और सिर्फ धोनी को कसूरवार ठहराना सही नहीं होगा। ये भी पढ़ें: एम एस धोनी के ग्रेड ए कॉन्ट्रैक्ट पर पूर्व पाकिस्तानी खिलाड़ी ने खड़े किए सवाल

गावस्कर ने कहा, ”वेस्टइंडीज के खिलाफ चौथे वनडे में भारत की हार का कारण सिर्फ धोनी नहीं थे। हार के लिए पूरी टीम जिम्मेदार थी। इसलिए हार के लिए सिर्फ धोनी को जिम्मेदार ठहराना सही नहीं होगा। धोनी की आलोचना और उन्हें दोष देना बंद करना चाहिए।” आपको बता दें कि चौथे वनडे में वेस्टइंडीज की टीम ने 50 ओवरों में 189 रन बनाए थे और भारत के सामने जीत के लिए 190 रनों का लक्ष्य रखा था। जिसके जवाब में भारत की पूरी टीम मात्र 178 रनों पर ढेर हो गई थी और मुकाबले को 11 रनों से हार गई थी।

इस मैच में धोनी ने अपने करियर का 64वां अर्धशतक पूरा किया था लेकिन धोनी ने ये अर्धशतक बेहद धीमे खेलते हुए 108 गेंदों में जड़ा था। धोनी ने अंत में 114 गेंदों में 54 रनों की पारी खेली थी। ये अर्धशतक धोनी के करियर का सबसे धीमा अर्धशतक था इसके अलावा किसी भी भारतीय द्वारा लगाया गया ये दूसरा सबसे धीमा अर्धशतक था। भारत और वेस्टइंडीज के सीरीज का पांचवां और आखिरी मैच गुरुवार को खेला जाएगा। सीरीज जीतने के लिए भारत को इस मैच को हर हाल में जीतना होगा।