Supreme Court postpones Thursday’s BCCI hearing, may be on 25 april or 2 may

सर्वोच्च न्यायालय ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) से संबंधित गुरुवार को होने वाली सनुवाई स्थागित कर दी है। इस सुनवाई में अदालत को एमिकस क्यूरे पी.एस. नरसिम्हा और बीसीसीआई के संबद्ध रखने वाली राज्य संघों के बीच हुई बातचीत के बारे में जानना था।

देश की सर्वोच्च अदालत ने हालांकि बुधवार को इस सुनवाई के स्थागित करते हुए इसके लिए दो नई तारीखों का ऐलान किया है। अब यह सुनवाई 25 अप्रैल और दो मई को की जाएगी।

पढ़ें:- ‘गांगुली को दिल्ली के डगआउट में बैठने से नहीं रोका जाएगा’

एस.ए. बोबडे और ए.एम. साप्रे की पीठ ने पिछले महीने राज्य संघों से कहा था कि वह अपने मुद्दे एमिकस क्यूरे को बताए और बीसीसीआई के नए संविधान से संबंधित जो मुद्दे हैं वो जल्दी हल करे।

राज्य संघों की तकरीबन 80 याचिकाएं सर्वोच्च अदालत में पड़ी हैं जिनमें उन्होंने कहा है कि प्रशासकों की समिति (सीओए) ने बीसीसीआई का जो नया संविधान बनाया है वह अदालत के आदेश के अनुसार नहीं है।

पढ़ें:- सहवाग बोले, खेल संघों के बीच मसले में खिलाड़ियों पर प्रतिबंध लगाना गलत

एक और मुद्दा फंड देने का है जिसमें राज्य संघों को लगता है कि बीसीसीआई ने बेवजह ही फंड रोके हुए हैं। एमिकस क्यूरे ने पारदर्शी और साफ प्रक्रिया के लिए सीओए, राज्य संघों के वकीलों के अलावा बीसीसीआई के अधिकारियों से मुलाकात की है। इस मुद्दे के सुलझ जाने के बाद सर्वोच्च अदालत बीसीसीआई चुनावों की तारीखों का ऐलान कर सकती हैं।