Suranga Lakmal: Last two years have been filled with hard work
सुरंगा लकमल © AFP

भारत बनाम श्रीलंका पहले वनडे मैच के नायक रहे तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल ने मैच के बाद अपने शानदार प्रदर्शन का राज बताया। लकमल का कहना है कि ये एक दिन का चमत्कार नहीं है बल्कि इस स्तर तक पहुंचने के लिए उन्होंने दो साल तक कड़ी मेहनत की और उन्हें आज इसका नतीजा मिला है। मैन ऑफ द मैच सुरंगा लकमल ने कहा, “पिछले दो साल कड़ी मेहनत से भरे रहे। कोचिंग स्टाफ ने भी मेरे साथ काफी काम किया है और मैं आज के अपने प्रदर्शन से काफी खुश हूं। पिछले कुछ दिनों से मेरी सेहत और फिटनेस ठीक है और उसका नतीजा आज दिखा।” बता दें कि भारत के खिलाफ दिल्ली टेस्ट के दौरान श्रीलंकाई खिलाड़ियों में से सबसे ज्यादा परेशान लकमल ही हुए थे। उन्होंने लगातार उल्टियां की थी और फिर उन्हें मैदान से बाहर ले गया था।

कोच ने की जमकर तारीफ

टीम के मुख्य कोच निक पोथास ने भी लकमल की जमकर तारीफ की। पोथास ने कहा, ‘‘सुरंगा विश्वस्तरीय गेंदबाज है। अगर परिस्थितियां उसके अनुकूल रहती है तो फिर ये मायने नहीं रखता कि वह किसको गेंदबाजी कर रहा है। वह आपके लिये बहुत परेशानी खड़ी करेगा। अपने करियर में अब तक उसने सपाट और सूखी विकेटों पर गेंदबाजी की है। आप उसे कुछ हरी घास पिच दे दो और फिर वह अपना बेहतरीन प्रदर्शन करेगा। इस साल के शुरू में दक्षिण अफ्रीका में उसने शानदार प्रदर्शन किया था।’’ पोथास ने आगे कहा, ‘‘हमारी इस टीम में ऐसे खिलाड़ी हैं जो कई प्रक्रियाओं से गुजरे हैं। हमने निश्चित तौर पर काफी खिलाड़ी आजमाये और हम उस फार्मूला के लगातार करीब पहुंच रहे हैं जो हमें लगता है कि भविष्य में हमें सफलता दिलाएगा।’’

नए कोच को सौंपने के लिए तैयार हैं श्रीलंका टीम

एंजेलो मैथ्यूज ने धर्मशाला वनडे में जीत को खास बताया
एंजेलो मैथ्यूज ने धर्मशाला वनडे में जीत को खास बताया

पोथास ने श्रीलंका के मुख्य कोच नियुक्त किए गए चंडिका हथुरूसिंघे के बारे में कहा, ‘‘हम सही स्थिति में हैं। हमने बहुत अच्छे तरीके से इस टीम को तैयार किया है और हम अब इसे नये कोच को सौंप सकते हैं और वह इसके साथ अच्छी तरह से आगे बढ़ सकते हैं।’’ 12 वनडे मैच लगतार हारने बाद धर्मशाला वनडे में मिली जीत पर पोथास ने कहा, ‘‘हम इस जीत का पूरा लुत्फ उठा रहे हैं। हमें सीमित ओवरों क्रिकेट में बहुत अधिक सफलता नहीं मिली है। अब चीजें व्यवस्थित हो गयी हैं और खिलाड़ी अपनी भूमिका समझ रहे हैं। हमने अलग तरह की रणनीति अपनायी और जिस तरह से चीजें आगे बढ़ी हम उससे खुश हैं। ’’