सुरंगा लकमल की तबीयत बिगड़ी (साभार- पीटीआई)
सुरंगा लकमल की तबीयत बिगड़ी (साभार- पीटीआई)

दिल्ली सेहत के लिए हानिकारक है, जी हां ये बयान इंडियन मेडिकल एसोसिएशन है जिसने क्रिकेटर्स के लिए दिल्ली की आबोहवा को बेहद ही खतरनाक बताया है। अंतर्राष्ट्रीय मानकों के मुताबिक दिल्ली की हवा में प्रदूषण की मात्रा 18 गुना ज्यादा है जिसे इंडियन मेडिलकल एसोसिएशन ने बेहद ही खतरनाक करार दिया है। आईएमए के अध्यक्ष के के अग्रवाल ने कहा, ‘दिल्ली में टेस्ट मैच नहीं होना चाहिए था। आईसीसी को प्रदूषण के लिए भी एक कमेटी बनानी चाहिए। क्रिकेट में तेज गेंदबाज, बल्लेबाज और फील्डर मैदान पर 5 दिन तक खेलते हैं। ऐसे में हानिकारक प्रदूषण भविष्य में उनकी सेहत को खराब कर सकता है।’

दिल्ली टेस्ट मैच के दूसरे दिन की तरह खेल के चौथे दिन भी प्रदूषण की मार श्रीलंकाई खिलाड़ियों पर दिखाई दी। श्रीलंकाई खिलाड़ी खेल के चौथे दिन एक बार फिर मास्क लगाकर मैदान पर फील्डिंग करते नजर आए। खराब प्रदूषण स्तर के चलते श्रीलंकाई तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल को तो उल्टियां होने लगी और उन्हें मैदान छोड़कर पैवेलियन लौटना पड़ा।

वनडे सीरीज- श्रीलंका की टीम का ऐलान, 'कप्तान' और लसिथ मलिंगा बाहर!
वनडे सीरीज- श्रीलंका की टीम का ऐलान, 'कप्तान' और लसिथ मलिंगा बाहर!

श्रीलंकाई खिलाड़ी चौथे दिन एक बार फिर मैदान पर मास्क लगाकर फील्डिंग करते हुए नजर आए। इस बीच तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल दूसरी पारी में अपना तीसरा ओवर फेंकने के बाद ही उल्टी करने लगे और उन्हें मैदान छोड़कर पवेलियन लौटना पड़ा। खेल के दूसरे दिन भी श्रीलंकाई खिलाड़ियों को प्रदूषण की वजह से दिक्कत हुई और खेल को तीन बार रोकना पड़ा था। वैसे प्रदूषण को लेकर हुए विवाद के बाद आखिरकार बीसीसीआई ने इस पर बड़ा फैसला भी लिया है। बीसीसीआई के कार्यकारी सेक्रेटरी अमिताभ चौधरी ने साफ कहा कि प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली में होने वाले मैचों को कहीं और शेड्यूल करने के बारे में सोचा जा सकता है।