साभार- पीटीआई
साभार- पीटीआई

दिल्ली ने कोलकाता में खेले गए फाइनल में उन्मुक्त चंद (53) के अर्धशतक के बाद गेंदबाजों के एकजुट प्रदर्शन से राजस्थान को 41 रन से शिकस्त देकर पहली बार सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी अपने नाम की। चंद टूर्नामेंट का अपना दूसरा मैच खेल रहे थे, उन्होंने फॉर्म में चल रहे ऋषभ पंत (13) और अनुभवी गौतम गंभीर (27) के सस्ते में आउट होने के बाद सही समय पर बेहतरीन खेल दिखाया जिससे दिल्ली की टीम 6 विकेट पर 153 रन का स्कोर बनाने में सफल रही।

इसके जवाब में राजस्थान की टीम बल्लेबाजी क्रम के चरमराने से 19.1 ओवर में 112 रन पर सिमट गयी जबकि सलामी बल्लेबाज आदित्य गढ़वाल 12वें ओवर में 36 गेंद में 52 रन बनाकर आउट हुए थे। बायें हाथ के तेज गेंदबाज और कप्तान प्रदीप सांगवान ने 14 रन देकर दो विकेट चटकाये। कुलवंत खेजरोलिया ने 24 रन देकर दो और पवन नेगी ने 21 रन देकर दो विकेट हासिल किये। इससे पहले गंभीर और पंत ने टीम को अच्छी शुरूआत करायी। राजस्थान को इस दौरान अपने शीर्ष तेज गेंदबाज दीपक चाहर की कमी खली जो चोट के कारण इस मैच में नहीं खेले।

आईपीएल 11- बेन स्टोक्स लगातार दूसरी बार बनेंगे सबसे अमीर खिलाड़ी!
आईपीएल 11- बेन स्टोक्स लगातार दूसरी बार बनेंगे सबसे अमीर खिलाड़ी!

गंभीर का ये टूर्नामेंट अच्छा नहीं रहा है, लेकिन उन्होंने चार शानदार बाउंड्री और एक छक्का जमाकर अपनी फॉर्म की झलकियां दी लेकिन वो लेग स्पिनर राहुल चहर का शिकार बने। दो गेंद के अंदर खलील अहम ने पंत को भी उछलती गेंद से विकेट के पीछे कैच आउट कराकर पैवेलियन भेज दिया। ध्रुव शोरे और चंद ने तीसरे विकेट के लिये 48 रन की अहम भागीदारी निभायी।