युवराज सिंह  © Getty Images
युवराज सिंह © Getty Images

टीम इंडिया के विस्फोटक बल्लेबाज युवराज सिंह के पिता योगराज सिंह एक बार फिर अपने बयान को लेकर चर्चा में बने हुए हैं। योगराज सिंह ने धोनी पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके बेटे युवराज सिंह के साथ धोनी आखिर करना क्या चाहते हैं। योगराज सिंह ने कहा कि टीम में उनके बेटे के साथ नाइंसाफी हो रही है जो कि बेहद गलत है। योगराज सिंह ने इसके पीछे भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का हाथ बताया है। योगराज सिंह ने एक इंग्लिश अखबार को दिए गए इंटरव्यू में कप्तान धोनी के लिए जमकर अपनी भड़ास निकाली। ये भी पढ़ें: टी20 विश्व कप, भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया: हिन्दी लाइव ब्लॉग

उन्होंने इंटरव्यू में कहा कि मेरे बेटे युवराज सिंह के साथ बेहद नाइंसाफी हो रही है, मेरे बेटे ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इतने साल बाहर रहने के बाद वापसी की है ये किसी और के बस की बात नही है। युवी जिस तरह से क्रिकेट से बाहर रहे और फिर अपने बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर वापसी की वो बेहद काबिलेतारीफ है। किसी और के लिए ऐसा करना असम्भव है।

योगराज सिंह ने कहा कि “कप्तान धोनी आखिर क्या करना चाहता है, बल्लेबाजी क्रम में लगातार बदलाव होने से खिलाड़ी के मन में संदेह पैदा होने लगता है कि टीम में उसकी जरुरत है कि नहीं। मैंने अपने बेटे से कहा है कि तुम्हारा समय आएगा”।

योगराज सिंह कहा कि अगर धोनी में हिम्मत है तो वो दो साल टीम से बाहर रहें और फिर टीम में वापसी करके दिखाए। धोनी टीम को तोड़ना चाहता है। आपको बता दें कि इससे पहले भी युवराज सिंह को टीम में जगह नहीं मिली थी जिसके बाद योगराज सिंह ने धोनी को काफी भलाबुरा कहा था।