T20 world Cup 2021 wasim akram picks his four teams as favorite but not pakistan
पाकिस्तान किकेट टीम और वसीम अकरम @Twitter

टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) की शुरुआत में अब कुछ ही महीने का समय बाकी है. इस बार क्रिकेट के इस सबसे छोटे फॉर्मेट के वर्ल्ड कप आयोजन अक्टूबर-नवंबर में भारत में होना है. हालांकि कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते ऐसी भी अटकलें लगाई जा रही हैं कि बीसीसीआई इस टूर्नामेंट को सुरक्षा कारणों के मद्देनजर संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में शिफ्ट कर सकता है.

इस टूर्नामेंट में कुल 16 टीमें हिस्सा लेंगी, जिसके लिए कुल 45 मैच खेले जाएंगे. हाल ही में बीसीसीआई को अपनी टी0 लीग आईपीएल को तब अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करना पड़ा, जब जैव सुरक्षा वाले बायो बबल में खेली जा रही इस लीग की चार टीमों के बायो बबल में कोविड- 19 के वायरस की एंट्री हो गई. ऐसे में इस वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट के आयोजन पर संदेह है.

हालांकि यह बाद की बात है कि वर्ल्ड कप का आयोजन भारत में होगा या भारत से बाहर. लेकिन पाकिसतान के पूर्व कप्तान वसीम अकरम (Wasim Akram) जब इस वर्ल्ड कप पर बात करने के लिए पाकिस्तान के एक न्यूज चैनल से बात कर रहे थे, तब उन्होंने वर्ल्ड कप खिताब की 4 दावेदार टीमों को चुना. इस दौरान अकरम ने भारत, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और वेस्टइंडीज को अपना फेवरेट बताया. लेकिन उनकी इस लिस्ट में पाकिस्तान का नाम नहीं था.

अकरम एआरवाई न्यूज से बात कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने कहा, ‘मैं समझता हूं कि मुख्य टीमों में से भारत फेवरेट होगा. क्योंकि वे बेखौफ स्तर की टी20 क्रिकेट खेल रहे हैं. इंग्लैंड भी इस लिस्ट में टॉप पर है. और न्यूजीलैंड भी. इसके अलावा आप वेस्टइंडीज के बारे में कभी भी अंदाजा नहीं लगा सकते. अगर उनके मुख्य खिलाड़ी अंदर हैं, तो उनमें अपना दबदबा दिखाने की क्षमता है.’

अकरम से जब पूछा गया कि उन्होंने पाकिस्तान का नाम क्यों नहीं लिया, जबकि हाल ही में वह साउथ अफ्रीका और जिम्बाब्वे को हराकर लौटी है. तो उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान को अपने कॉम्बिनेशन को लेकर काम करना होगा. निश्चिततौर पर एक पाकिस्तानी होने के नाते, मैं यह जरूर चाहूंगा कि पाकिस्तान वर्ल्ड कप जीते. हम सभी के लिए यह एक सपना सच होने जैसा होगा. लेकिन पाकिस्तान और उसके युवा कप्तान को फिलहाल अपने बेस्ट 11 खिलाड़ी छांटने की जरूरत है. तभी वे लड़ सकते हैं. हमारी टीम में नंबर 5 और नंबर 6 की समस्या अभी भी है. इसे हल सुलझाने की जरूरत है.’