बांग्लादेश को हराकर कमाल करने वाली स्कॉटलैंड ने मंगलवार को पपुआ न्यू गिनी (PNG) को 17 रन से हराकर टूर्नामेंट में अपनी लगातार दूसरी जीत दर्ज कर ली है. इस जीत के साथ स्कॉटलैंड ने सुपर 12 राउंड में प्रवेश कर लिया है. इस मैच में रिची बेरिंगटन (70) की बेहतरीन फिफ्टी के बाद जोश डेवी की अगुआई में उसके बॉलरों ने एक बार फिर शानदार खेल दिखाया. स्कॉटिश टीम ने पीएनजी को यहां 166 रन का लक्ष्य दिया था.

पीएनजी के लिए नोर्मन वानुआ (47 रन, 37 गेंद, दो छक्के, दो चौके) और किपलिन डोरिगा (18) के बीच सातवें विकेट की 53 रन की ताबड़तोड़ साझेदारी के बावजूद 19.3 ओवर में 148 रन पर सिमट गई. कप्तान असद वला (18) और सेसे बाउ (24) अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलने में नाकाम रहे.

स्कॉटलैंड की ओर से डेवी ने 18 रन देकर चार विकेट चटकाए. मार्क वाट, ब्रेड व्हील, एलेस्डेयर इवान्स और क्रिस ग्रीव्स ने एक-एक विकेट हासिल किया. स्कॉटलैंड ने बेरिंगटन (70) और मैथ्यू क्रॉस (45) के बीच तीसरे विकेट के लिए 92 रन की साझेदारी की मदद से 9 विकेट पर 165 रन रन का मजबूत स्कोर खड़ा किया था.

बेरिंगटन ने 49 गेंद की अपनी पारी में 6 चौके और 3 छक्के मारे जबकि क्रॉस ने 36 गेंद का सामना करते हुए दो चौके और इतने ही छक्के जड़े. उन्हें इस शानदार पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया.

अपने पहले मैच में बांग्लादेश को छह रन से हराने वाले स्कॉटलैंड ने अपने दोनों मैच जीतकर सुपर 12 चरण में अपनी जगह पक्की कर ली है. टीम को पहले दौर का अपना आखिरी मुकाबला 21 अक्टूबर को मेजबान ओमान के खिलाफ खेलना है.

लक्ष्य का पीछा करने उतरे पीएनजी की शुरुआत काफी खराब रही और टीम ने पावर प्ले में ही 35 रन तक पांच विकेट गंवा दिए. पीएनजी ने दूसरे ओवर में टोनी उरा (2) के रूप में पहला विकेट गंवाया जो डेवी की गेंद को विकेटों पर खेल गए. ब्रेड व्हील ने दूसरे सलामी बल्लेबाज लेगा सेइका (9) को विकेटकीपर क्रॉस के हाथों कैच कराया.

कप्तान असद वला (18) ने एलेस्डेयर इवान्स पर चार चौके मारे लेकिन इसी तेज गेंदबाज की गेंद पर व्हील को कैच दे बैठे. चार्ल्स अमिनी एक रन बनाकर रन आउट हुए जबकि डेवी ने साइमन अताई (2) को बेरिंगटन के हाथों कैच कराके पीएनजी को पांचवां झटका दिया.

बाउ और वानुआ ने इसके बाद पारी को संभाला. बाउ ने वाट पर छक्के के साथ 9वें ओवर में टीम के रनों का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया. बाउ हालांकि क्रिस ग्रीव्स की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में लॉन्ग ऑन पर व्हील को कैच दे बैठे. वानुआ ने ग्रीव्स पर लगातार दो चौकों के साथ अपनी बाउंड्री का खाता खोला। पीएनजी को अंतिम छह ओवर में जीत के लिए 80 रन की दरकार थी.

वानुआ ने 15वें ओवर में व्हील पर दो छक्कों के साथ 18 रन जुटाए जबकि डोरिगा ने अगले ओवर में ग्रीव्स पर चौके और छक्के के साथ 16 रन जोड़े. पीएनजी को अंतिम 3 ओवर में जीत के लिए 42 रन की जरूरत थी. डेवी ने वानुआ को क्रॉस के हाथों कैच कराके पीएनजी की रही सही उम्मीद भी तोड़ दी.

(इनपुट: भाषा)