कोरोना महामारी के बीच अधर में अटके आईपीएल 2020 (IPL 2020) को लेकर बीसीसीआई की तरफ से मंगलवार को एक अहम जानकारी दी गई. बीसीसीआई कोषाध्‍यक्ष अरुण धुमल का कहना है कि विदेशी सरजमीं पर आईपीएल का आयोजन हमारे लिए अंतिम रास्‍ता होगा.

श्रीलंका और यूएई पहले ही भारत को आईपीएल का आयोजन उनके देश में कराने का प्रस्‍ताव बीसीसीआई को भेज चुके हैं. इस कड़ी में सोमवार को न्‍यूजीलैंड का नाम भी जुड़ गया है. न्‍यूजीलैंड में कोरोना महामारी काफी हद तक नियंत्रण में है.

न्‍यूज एजेंसी रॉयटर से बातचीत के दौरान धुमल ने कहा, “अन्‍य देशों से हमे आईपीएल कराने को लेकर प्रस्‍ताव मिले हैं. हमसे पूछा गया है कि अगर बीसीसीआई चाहे तो वो अपने देश में आईपीएल का आयोजन कर सकते हैं. आईपीएल की अगली गवर्निंग बॉडी की मीटिंग में हम इसपर चर्चा करेंगे. तभी इस संबंध में अंतिम निर्णय लिया जाएगा. हमें पहले भारत में आईपीएल कराने की सभी संभावना को तलाशना होगा.”

बीसीसीआई चाहता है कि इस साल अक्‍टूबर-नवंबर में होने वाला टी20 विश्‍व कप रद्द हो जाए ताकि उस समय पर आईपीएल का आयोजन कराया जा सके. अगर आईपीएल इस साल नहीं हुआ तो इससे बीसीसीआई को करीब 500 करोड़ का नुकसान होने की संभावना है.

भारत सरकार ने विदेशों से आने वाले विमानों पर कोरोना महामारी को देखते हुए प्रतिबंध लगाया हुआ है. माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में इस वायरस का कहर पहले से भी अधिक हो जाएगा. ऐसे में मौजूदा स्थिति को देखते हुए अभी भारत में आईपीएल का आयोजन संभव नहीं है.

तय कार्यक्रम के अनुसार 29 मार्च को आईपीएल का आयोजन होना था जिसे 15 अप्रैल तक टाल दिया गया था. बाद में बीसीसीआई ने आईपीएल को अनिश्चित काल के लिए टालने का निर्णय लिया था.