भारतीय टीम © AFP
भारतीय टीम © PTI

टेस्ट में बन गई नंबर-1, वनडे में भी बन गई नंबर-1, अब टीम इंडिया का अगला मिशन टी20 में नंबर-1 बनने का है। अगर टीम इंडिया टी20 में भी नंबर-1 बन जाएगी तो क्रिकेट इतिहास में ये पहली बार होगा जब भारतीय टीम तीनों फॉर्मेट में एकसाथ नंबर-1 होगी। भारतीय टीम आज तक कभी तीनों फॉर्मेट में एकसाथ नंबर-1 नहीं बनी है। टी20 में नंबर-1 बनने से भारतीय टीम सिर्फ 3 कदम दूर है। अगर भारत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अगले दोनों और फिर न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला टी20 मैच जीत जाता है तो रैंकिंग में नंबर-1 बन जाएगा।

अभी क्या है रैंकिंग: मौजूदा टी20 रैंकिंग की बात करें तो टीम इंडिया फिलहाल 118 प्वॉइंट्स के साथ पांचवें नंबर पर है। वहीं कीवी टीम 125 प्वॉइंट्स के साथ नंबर-1 बनी हुई है। इसके अलावा दूसरे पर पाकिस्तान (121 प्वॉइंट), तीसरे पर वेस्टइंडीज (120 प्वॉइंट), चौथे पर इंग्लैंड (119 प्वॉइंट) की टीम है। ये भी पढ़ें: ”अपने घर पर अजेय है टीम इंडिया, नहीं हरा सकती दुनिया की कोई टीम”

नंबर-1 बनने से सिर्फ 3 कदम दूर टीम इंडिया: भारत को अगर टी20 रैंकिंग में नंबर-1 बनना है तो टीम को अगले तीन मैच जीतने होंगे। पहले टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अगले दोनों और फिर न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला टी20 मैच जीतना होगा। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अगले दोनों मैच जीतने पर टीम इंडिया के प्वॉइंट (122) हो जाएंगे और टीम दूसरे नंबर पर पहुंच जाएगी। इस हालात में भारतीय टीम और नंबर-1 के बीच सिर्फ न्यूजीलैंड (3 प्वॉइंट) ही रह जाएगी।

अगर भारत 1 नवंबर को न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले मुकाबले को जीत लेता है तो भारत के 124 प्वॉइंट हो जाएंगे और टीम न्यूजीलैंड को पीछे छोड़कर नंबर-1 बन जाएगी। हालांकि इस दौरान अगर टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बाकी बचे 2 मैचों में से 1 हार जाती है और फिर कीवी टीम के खिलाफ सीरीज को 3-0 से जीत लेती है तो भी टीम नंबर-1 बन जाएगी।  ये भी पढ़ें: कुलदीप यादव ने किया एरन फिंच का ‘ब्रेन फेड’!, कर दिया ‘क्लीन बोल्ड’

नंबर-1 की कुर्सी मजबूत करने के लिए न्यूजीलैंड का करना होगा सूपड़ा साफ: ऑस्ट्रेलिया का क्लीन स्वीप करने के बाद भारत अगर टी20 सीरीज में न्यूजीलैंड का सूपड़ा साफ भी कर देता है तो टीम के 127 प्वॉइंट हो जाएंगे और दूसरे नंबर पर मौजूद वेस्टइंडीज से भारत 7 अंक आगे हो जाएगा। हालांकि अगर भारत कीवी टीम से 2-1 से जीत दर्ज करता है तो ऐसे में भारत के 124 प्वॉइंट और कीवी टीम के 122 प्वॉइंट रहेंगे।