इंग्लैंड के खिलाफ 5 फरवरी से शुरू होने जा रही टेस्ट सीरीज से पहले भारतीय टीम को चेन्नई के अपने होटल में एंट्री करने से पहले कोविड- 19 (Covid- 19 Test) का टेस्ट कराना होगा. बीसीसीआई ने यह साफ कर दिया है कि सभी खिलाड़ियों को होटल में एंट्री से पहले यह टेस्ट कराना अनिवार्य है. टीम इंडिया के खिलाड़ी 27 जनवरी यानी बुधवार को चेन्नई पहुंच रहे हैं. यह सीरीज बायो बबल में खेली जाएगी. खिलाड़ियों के पहुंचने के बाद यहां उनका कोरोना टेस्ट होगा इसके बाद वे बायो बबल में एंट्री कर लेंगे.

इस समय श्रीलंका में मौजूद इंग्लैंड टीम भी यहां 27 जनवरी को ही पहुंच रही है. दोनों टीमें एक ही होटल में ठहरेंगी, जो चेपक स्टेडियम के पास ही है. चेन्नई पहुंचकर दोनों टीमों के खिलाड़ी और सहयोगी स्टाफ के सभी सदस्य बायो बबल में प्रवेश करने के साथ ही 7 दिनों के लिए क्वारंटीन में चले जाएंगे.

वेबसाइट क्रिकबज के अनुसार टीम के डॉक्टर अभिजीत साल्वी ने साफ कर दिया है कि भारतीय खिलाड़ियों को होटल में प्रवेश के लिए हर हाल में कोरोना टेस्ट कराना होगा, इस बायो बबल में सिर्फ उन्हीं खिलाड़ियों को प्रवेश की इजाजत होगी, जिनका कोरोना टेस्ट निगेटिव आएगा. भारतीय टीम के ज्यादातर खिलाड़ी हाल ही में ऑस्ट्रेलिया से लौटे हैं और वे सभी तभी से होम क्वारंटीन थे.

इंग्लैंड की टीम भारत दौरे पर पूरे क्रिकेट कार्यक्रम के लिए आ रही है. इंग्लिश टीम यहां सबसे पहले 4 टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी. इसके बाद वह यहां 3 मैचों की वनडे सीरीज और फिर 5 मैचों की टी20i सीरीज खेलेगी. 5 फरवरी से शुरू होने वाली यह सीरीज 28 मार्च तक अपने अंजाम पर पहुंचेगी.