भारतीय टेस्ट टीम (Indian Test Team) के प्रमुख बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) का कहना है कि आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप जीतना वनडे या टी20 विश्व कप जीतने से भी बड़ी उपलब्धि है। बता दें कि भारतीय टीम शानदार घरेलू सीजन के बाद फिलहाल टेस्ट चैंपियनशिप अंकतालिका में 360 अंक लेकर नंबर एक पर है।

टीम इंडिया को फाइनल में जगह पक्की करने के लिए मात्र 100 और अंकों की जरूरत है। जिसके लिए टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेलने के लिए तैयार है।

सीरीज से पहले पुजारा ने कहा, “जब आप टेस्ट चैंपियन बनते हैं, मैं कहूंगा कि ये वनडे या टी20 विश्व कप जीतने से भी बड़ा होगा। कारण ये है कि, ये सबसे अहम फॉर्मेट है। अगर आप किसी पूर्व खिलाड़ी से पूछेंगे, यहां तक कि मौजूदा खिलाड़ी भी यही कहेंगे कि टेस्ट क्रिकेट सबसे चुनौतीपूर्ण फॉर्मेट है। और जब आप टेस्ट क्रिकेट के चैंपियन बनते हैं तो उससे बढ़कर कुछ नहीं है।”

फिटनेस टेस्ट में पास हुए इशांत शर्मा, न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में खेंलेगे

भारत के लिए केवल टेस्ट फॉर्मेट खेलने वाले पुजारा ने कहा, “ज्यादातर टीमें ने घरेलू हालातों में अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन जब वो दौरे पर जाते हैं तो उन्हें चुनौती मिलती है। खासकर कि भारतीय टीम ने विदेशों में अच्छा प्रदर्शन करके दिखाया है। अब हमने विदेशों में सीरीज जीतना शुरू कर दिया है।”

उन्होंने आगे कहा, “इसलिए टीम इंडिया के पास ये सबसे बड़ा फायदा है। टेस्ट चैंपियनशिप की बात करते हुए, कोई भी टीम जो फाइनल में पहुंचेगी, उसे दो साल के समय में कड़ी मेहनत करनी होगी और उन्हें ना केवल घर बल्कि विदेश में भी सीरीज जीतनी होगी।”

टीम इंडिया 21 फरवरी से न्यूजीलैंड के खिलाफ इस सीजन की अपनी पहली विदेशी टेस्ट सीरीज खेलेगी।