मिचेल स्टार्क © Getty Images
मिचेल स्टार्क © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच ब्रिस्बेन में खेले जा रहे एशेज सीरीज के पहले टेस्ट मैच में मेजबान टीम के तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क ने अपने 150 टेस्ट विकेट पूरे कर लिए। इसके अलावा स्टार्क के नाम एक और उपलब्धि दर्ज हो गई है और वो ये है कि वो अब सबसे तेज 150 टेस्ट विकेट लेने वाले संयुक्त रूप से दुनिया के तीसरे बाएं हाथ के तेज गेंदबाज बन गए हैं। स्टार्क के लिए ये उपलब्धि और भी खास इसलिए हो जाती है क्योंकि इसे उन्होंने अपनी चिर प्रतिद्वंदी टीम के खिलाफ और दुनिया की सबसे बड़ी टेस्ट सीरीज एशेज में हासिल किया है।

मिचेल जॉनसन हैं नंबर-1: दुनिया के सबसे तेज 150 विकेट लेने वाले बाएं हाथ के तेज गेंदबाज की बात करें तो पहले नंबर पर ऑस्ट्रेलिया के मिचेल जॉनसन हैं। जॉनसन ने 34 मैचों में 150 विकेट हासिल किए थे जो कि एक रिकॉर्ड है। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया के ही बिल जॉनसन (35 मैच), एलेन डेविड्सन और मिचेल स्टार्क (37 मैच) हैं। खास बात ये है कि इस लिस्ट में टॉप-4 गेंदबाज ऑस्ट्रेलिया के ही हैं। वहीं ट्रेंट बोल्ट ने (40) और वसीम अकरम ने (41) मैचों में 150 टेस्ट विकेट हासिल किए हैं।

स्टार्क के आंकड़े: स्टार्क ने पहली पारी में 3 खिलाड़ियों को आउट किया। स्टार्क के आंकड़ों पर गौर करें तो उन्होंने 37 टेस्ट मैचों में 151 विकेट झटके हैं। स्टार्क का बेस्ट पारी में 50 रन देकर 6 विकेट रहा है। वहीं मैच में उनका बेस्ट 94 रन देकर 11 विकेट रहा है। स्टार्क अपने 150 विकेट से सिर्फ 2 विकेट की दूरी पर हैं और ऐसे में वो इस उपलब्धि को पहले ही टेस्ट में हासिल करने की कोशिश मनें होंगे। इसके अलावा इंग्लैंड के खिलाफ स्टार्क ने 9 मैचों में 31* विकेट झटके हैं। इंग्लैंड के खिलाफ स्टार्क का बेस्ट पारी में 111 रन देकर 6 विकेट रहा है।