© Getty Images
© Getty Images

एशेज सीरीज शुरू होने से पहले ऑलराउंडर मोइन अली इंग्लैंड की टीम के सबसे बड़े मैच जिताऊ खिलाड़ी थे। अली बल्ले से रन बना रहे थे और अपनी उंगलियों के जादू से कई विकेट चटका रहे थे। लेकिन एशेज शुरू होते ही उनकी बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों पर ग्रहण सा लग गया। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एशेज में अबतक खेली गई सातों पारियों में मोइन अली फेल रहे। हद तो इस बात की है कि मोइन अली लगातार एक ही तरह से आउट हो रहे हैं और बतौर गेंदबाज वो बेहद ही औसत गेंदबाजी कर रहे हैं।

मेलबर्न में खेले जा रहे चौथे टेस्ट मैच की पहली पारी में मोइन अली 14 गेंद में 20 रन बनाकर आउट हुए। मोइन अली ने अपना विकेट एक बार फिर ऑफ स्पिनर नाथन लायन को दिया। नाथन लायन ने मोइन अली को 7 पारियों में छठी बार आउट किया। पर्थ टेस्ट की पहली पारी को अगर छोड़ दें तो मोइन अली हर बार नाथन लायन का शिकार बने। ब्रिसबेन-एडिलेड टेस्ट की दोनों पारियों में नाथन लायन ने मोइन अली को आउट किया। पर्थ टेस्ट की दूसरी पारी में लायन ने अली को पैवेलियन लौटाया और अब मेलबर्न में भी अली ने लायन को अपना विकेट दिया।

वीडियो: बिग बैश लीग में बड़ा हादसा, बेन रोहरर के कंधे पर लगी गेंद
वीडियो: बिग बैश लीग में बड़ा हादसा, बेन रोहरर के कंधे पर लगी गेंद

मोइन अली एशेज सीरीज में बेहद खराब फॉर्म में दिख रहे हैं। मोइन अली दौरे पर अपना चौथा टेस्ट खेल रहे हैं और उन्होंने 16.28 के औसत से 114 रन बनाए हैं। मोइन अली एक भी बार अर्धशतक तक नहीं लगा पाए हैं। गेंदबाजी की बात करें तो मोइन अली ने 6 पारियों में सिर्फ 3 विकेट झटके हैं। उनकी गेंदबाजी का औसत 124.33 है। मोइन अली के इस प्रदर्शन के बाद इंग्लैंड के क्रिकेट समर्थक और कई पूर्व खिलाड़ी टीम में उनकी जगह पर सवाल खड़े कर रहे हैं।