बुधवार से इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच शुरू होने वाली एशेज सीरीज (The Ashes 2021-22) को लेकर उत्साह चरम पर है। मौजूदा समय में जब टेस्ट क्रिकेट एक बार फिर लोकप्रियता हासिल कर रहा है, ऐसे में एशेज सीरीज का महत्व और भी बढ़ गया है। इस सीरीज में स्टीव स्मिथ (Steve Smith), डेविड वार्नर (David Warner), जेम्स एंडरसन (James Anderson), पैट कमिंस (Pat Cummins) और जो रूट (Joe Root) जैसे खिलाड़ियों के बीच कई दिलचस्प मुकाबले देखने को मिलेंगे। ऐसे ही तीन मुकाबलों के बारे में यहां बात करने जा रहे हैं जो आगामी एशेज सीरीज के विजेता का फैसला करने में अहम भूमिका निभा सकते हैं।

डेविड वार्नर vs स्टुअर्ट ब्रॉड

हाल ही में टी20 विश्व कप में शानदार प्रदर्शन कर चुके डेविड वार्नर (David Warner) जब ऑस्ट्रेलियाई बैगी ग्रीन पहनकर एशेज में उतरेंगे तो उनका सामना इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड (Stuart Broad) से होगा।

23 मैचों में, ब्रॉड ने 12 बार वार्नर का विकेट लिया ह जबकि वार्नर ने 45 घरेलू टेस्ट मैचों में अविश्वसनीय 18 शतक बनाए हैं। लेकिन पिछली एशेज सीरीज में वार्नर ने पांच पारियों में 9.50 के औसत से मात्र 95 रन बनाए थे। इस दौरान वो रिकॉर्ड सात बार ब्रॉड के खिलाफ आउट हुए थे।

हालांकि वार्नर के लिए सकारात्मक बात ये है कि ब्रॉड ने भारत के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट में चोटिल होने के बाद से गेंदबाजी नहीं की है। ऐसे में मौजूदा फॉर्म वार्नर के पक्ष में रहेगी।

जो रूट vs पैट कमिंस, जॉश हेजलवुड, नाथन लियोन

फॉर्म में चल रहे इंग्लिश कप्तान जो रूट (Joe Root) और ऑस्ट्रेलिया गेंदबाजों के बीच का मुकाबला एशेज सीरीज का सबसे दिलचस्प मुकाबला होने वाला है। गाबा टेस्ट से पहले ऑस्ट्रेलियाई कप्तान पैट कमिंस (Pat Cummins) ने खुद कहा है कि रूट उनकी टीम के लिए इंग्लैंड का सबसे कीमती विकेट हैं।

कमिंस के साथ जॉश हेजलवुड (Josh Hazlewood) और स्पिनर नाथन लियोन (Nathan Lyon) ने इंग्लैंड के इस शीर्ष क्रम बल्लेबाज को टेस्ट में सबसे ज्यादा सात बार आउट करने का रिकॉर्ड बनाया है।

जबकि इंग्लैंड के कप्तान और दुनिया के नंबर एक बल्लेबाज का औसत (50.15) ऑस्ट्रेलिया में गिरकर 38.00 का हो जाता है। वहीं रूट ने ऑस्ट्रेलियाई जमीन पर खेले 9 टेस्ट में अब तक एक भी शतक नहीं लगाया है।

स्टीव स्मिथ vs जेम्स एंडरसन

इंग्लैंड के सीनियर तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन (James Anderson) जो शायद अपनी आखिरी एशेज सीरीज खेल रहे हैं ऑस्ट्रेलिया के सबसे शानदार बल्लेबाज स्टीव स्मिथ (Steve Smith) की सबसे बड़ी चुनौती होंगे।

स्मिथ पिछली दो एशेज सीरीज में ऑस्ट्रेलिया के सबसे बड़ी बल्लेबाज रहे हैं। 2017-18 में ऑस्ट्रेलिया ने 4-0 से जीत हासिल की थी जब उन्होंने 137.40 की औसत से पर 687 रन बनाए थे और 2019 में पिछली एशेज सीरीज में जब इंग्लैंड में खेलते हुए ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज 2-2 से ड्रॉ करा ट्रॉफी अपना पास रखी थी तब भी स्मिथ ने 110.57 की औसत से 774 रन बनाए थे।

हालांकि एंडरसन 2019 में स्मिथ के खिलाफ गेंदबाजी नहीं कर सके चूंकि एजबेस्टन में खेले गए पहले टेस्ट में चार ओवर डालने के बाद चोटिल होने की वजह से उन्हें पूरी सीरीज से बाहर होना पड़ा था लेकिन इस बार जिमी वो कसर पूरी करना चाहेंगे।