The Ashes: Josh Hazlewood is ready and comfortable for Lord’s Test
जोश हेजलवुड © IANS

प्रमुख तेज गेंदबाजों मिचेल स्टार्क और जॉश हेजलवुड के बिना इंग्लैंड के खिलाफ पहला एशेज टेस्ट खेलने उतरी ऑस्ट्रेलिया टीम ने 251 रन के विशाल अंतर से जीत हासिल की। और अब जबकि दोनों ही सीनियर पेसर्स लॉर्ड्स टेस्ट में खेलने के लिए फिट हैं तो इंग्लैंड की मुश्किलें और बढ़ने वाली हैं।

हेजलवुड का कहना है कि वो लॉर्ड्स टेस्ट में खेलने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। हालांकि हेजलवुड और स्टार्क के फिट होने से चयनकर्ताओं के पास अपने 6 तेज गेंदबाजों में से तीन या चार का चयन करना और मुश्किल हो गया है। हेजलवुड का मानना है कि ये फैसला पिच और स्थिति पर निर्भर करेगा।

उन्होंने कहा, “अगर ये सूखा विकेट हुआ, जहां रिवर्स स्विंग खेल में आ सकती या फिर सपाट विकेट हुआ तो मिच स्टार्क जैसा कोई काम आ सकता है। अगर विकेट अच्छा-हरा और सीम वाला हुआ तो मैं और सिड्स। मुझे लगता है कि वो (चयनकर्ता) 2015 के मुकाबले एकदम अलग दिशा में जा रहे हैं और इसकी एक वजह व्यस्त एशेज शेड्यूल है। इस वजह से हमारे पास 6 तेज गेंदबाज हैं और कोई भी किसी भी दिन अपना काम कर सकता है।”

भारत ए के लिए दोहरा शतक बनाने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बने गिल

हेडलवुड ने आगे कहा, “हमारे पास तीन गेंदबाज हैं जिनके पास अच्छी गति है और तीन जो कि सीम और स्विंग कराते हैं। मुझे लगता है कि सारे बेस कवर करने के लिए ही 6 तेज गेंदबाजों को लिया गया है। और मेरा मानना है कि जो भी टेस्ट मैच से पहले अच्छी गेंदबाजी कर रहा होगा उसे सहमति मिलेगी। मेरा मानना है कि हर एक तेज गेंदबाज को बाकी के पांच पेसर्स से दबाव महसूस हो रहा है, और ये स्क्वाड के अंदर अच्छी प्रतिद्वंदिता है।”

उन्होंने कहा, “मैंने यहां (लॉर्ड्स) एक ही टेस्ट खेला है लेकिन मुझे बहुत जल्दी ढलान की आदत हो गई और मैं यहां आराम महसूस करता हूं। पिछले कुछ टेस्ट मैचों से यहां के हालात गेंदबाजों के पक्ष में रहे हैं। इसलिए मैं खेलने का एक और मौका पसंद करूंगा। जब मैंने पहला टेस्ट मैच खेला तो मैं काफी युवा था और ये बहुत जल्दी गुजर गया। लेकिन केवल लॉर्ड्स पर एशेज टेस्ट खेलने का ख्याल बेहतरीन है और मैं इसे लेकर उत्साहित हूं।”

गयाना वनडे: भारत और वेस्टइंडीज के बीच पहला वनडे मैच रद्द

ऑस्ट्रेलिया टीम जहां इस बात से परेशान है किस तेज गेंदबाज को प्लेइंग इलेवन में रखें और किसे बाहर करें। वहीं मेजबान टीम अपने सीनियर तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन के चोटिल होने से मुश्किल में आ गई है। वहीं दूसरे तरफ टीम के लिए 10 एशेज शतक जड़ चुके स्टीव स्मिथ को रोकना नामुमकिन हो रहा है।

हेजलवुड ने भी कहा कि एंडरसन के लॉर्ड्स टेस्ट में ना खेलने से काफी फर्क पड़ेगा। उन्होंने कहा, “उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज जिमी शायद नहीं खेलेगी। इसलिए उससे कुछ विकल्प सामने आएंगे लेकिन मुझे लगता है कि इसमें कुछ और शामिल होगा। शायद केवल स्मिथि को आउट करने की कोशिश करेंगे लेकिन उस तरह के ट्रैक पर बल्लेबाजी करना बहुत कठिन काम है। मुझे लगता है कि अगर विकेट में कुछ होगा तो ये हमें उतना ही मदद करेगा जितना उन्हें करेगा।”