The way Karun Nair has been dropped is quite baffling says Dilip Vengsarkar
Indian batsman Karun Nair@ IANS

वेस्टइंडीज के खिलाफ चुनी गई टेस्ट टीम से करुण नायर को बाहर किए जाने को पूर्व भारतीय कप्तान और चयनकर्ता दिलीप वेंगसरकर ने हैरानी भरा बताया है। साल 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक बनाने के बाद करुण चर्चा में आए थे। वह भारत की तरफ से वीरेंद्र सहवाग के बाद ऐसा करने वाले दूसरे भारतीय बने थे।

करुण नायर ने अब तक भारत की तरफ से सिर्फ 6 टेस्ट मैच खेले हैं। इंग्लैंड दौरे पर चुने गए नायर को पांच टेस्ट मैचों की सीरीज के एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला। आखिरी दो टेस्ट में चुने गए हनुमा विहारी को टेस्ट डेब्यू करने का मौका दिया गया। हनुमा को नायर के टीम में होने के बाद भी मौका दिए जाने पर पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने भी सवाल उठाए थे।

टाइम्स इंडिया में पूर्व चयनकर्ता दिलीप वेंगसरकर की तरफ से लिखा कि करुण नायर को टेस्ट टीम से ड्रॉप किया जाना चौंकाने वाला है। ”उन्होंने कुछ ही साल पहले भारत में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में तिहरा शतक बनाया था। किसी भी ग्रेड में तिहरा शतक बनाना काफी बेहतरीन प्रदर्शन है, ऐसा करने वाले लोग कुछ ही हैं।”

भारत की तरफ से 116 टेस्ट मैच खेलने वाले वेंगसरकर ने कहा, ”इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें टेस्ट में करुण की जगह हनुमा विहारी को प्लेइंग इलेवन में जगह दिए जाने पर टीम मैनेजमेंट को जवाब देना चाहिए। करुण के टीम में रहने के बाद भी भारत से हनुमा विहारी को बुलाना और उनको टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाफ प्लेइंग इलेवन में शामिल करना। मुझे लगता है यह इस बल्लेबाज के साथ सही नहीं है। सिर्फ कोई बुद्धिमान ही बता सकता है कि टेस्ट में तिहरा शतक बनाने वाले एक बल्लेबाज के साथ ऐसा क्यों किया जा रहा है।”