This one is for my dad krunal pandya gets emotional dedicates maiden odi fifty to late father

अपनी राष्ट्रीय टीम के लिए डेब्यू करना किसी भी युवा क्रिकेटर का सबसे बड़ा सपना होता है। वहीं अपने पहले ही मैच में अर्धशतकीय पारी खेलना तो सोने पर सुहागा। भारतीय ऑलराउंडर क्रुणाल पांड्या (Krunal Pandya) के साथ कुछ ऐसा ही हुआ।

इंग्लैंड के खिलाफ पहले मैच के लिए जरिए वनडे क्रिकेट में कदम रख रहे क्रुणाल ने पहले ही मैच में 58 रनों की पारी खेल डेब्यू वनडे में सबसे तेज अर्धशतक जड़ने का रिकॉर्ड अपने नाम किया। लेकिन क्रुणाल के लिए ये पारी इन आंकड़ों से कहीं बढ़कर है।

क्रुणाल ने अपने वनडे करियर का पहला अर्धशतक अपने पिता को समर्पित किया। बता दें कि क्रुणाल और हार्दिक पांड्या के पिता हिमांशु पांड्या का निधन इसी साल जनवरी में हो गया था। उस समय क्रुणाल घर पर ना होकर अपनी घरेलू टीम बड़ौदा के साथ विजय हजारे ट्रॉफी खेल रहे थे। लेकिन खबर मिलने के बाद वो फौरन घर के लिए रवाना हुए।

भारत की पारी 317/5 के स्कोर पर खत्म होने के बाद जब क्रुणाल को वर्चुअल इंटरव्यू के लिए बुलाया गया तो बेहद भावुक हो गए और केवल एक लाइन बोल सके। पांड्या ने कहा ‘ये मेरे पिता के लिए’, जिसके बाद वो अपने आंसुओं को रोक नहीं सके और इंटरव्यू के दौरान रो पड़े। इंटरव्यू खत्म होने के बाद क्रुणाल अपने भाई हार्दिक के गले लगकर खूब रोए।

पांड्या के इस भावुक इंटरव्यू का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा और दुनिया भर के क्रिकेट फैंस इस भारतीय ऑलराउंडर की सराहना कर रहे हैं।

इंग्लैड की महिला क्रिकेट टीम के खिलाड़ी केट क्रॉस ने अपने ट्विटर अकाउंट से मैदान पर गले लग रहे हार्दिक और क्रुणाल की तस्वीर पोस्ट कर लिखा ‘ये है खेल की ताकत, डेब्यू मैच पर क्या शानदार पारी खेली क्रुणाल पांड्या’।