तिलकरत्ने दिलशान और विराट कोहली  © AFP
तिलकरत्ने दिलशान और विराट कोहली © AFP

टी20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा चौके लगाने वाले तिलकरत्ने दिलशान बेसब्री से विराट कोहली के 200 चौकों का इंतजार कर रहे हैं। दिलशान ने साल 2006 से 2016 तक टी20 क्रिकेट खेलते हुए 28.60 की औसत से 1,889 रन बनाए और साथ ही 223 चौके लगाए हैं। उनके बाद दूसरे नंबर पर अफगानिस्तान के मोहम्मद शहजाद (200 चौके) और टीम इंडिया के विराट कोहली (199 चौके) तीसरे नंबर पर हैं। दिलशान ने 200 चौके पूरे करने के लिए 80 मैच खेल डाले थे वहीं कोहली ने इस रिकॉर्ड को 53वें मैच में ही मुकम्मल कर सकते हैं।

डेली ऑर्ब्जवर से बातचीत में दिलशान ने कोहली के इस कीर्तिमान ते बारे में विस्तृत चर्चा की। दिलशान ने कहा, “उन्हें अपने 200 क्लब में शामिल होते हुए देख मुझे खुशी होगी। कोहली अच्छी क्रिकेट खेल रहे हैं और पिछले दो सालों में उनका मैदान पर प्रदर्शन सराहनीय है। जब वह मेरा रिकॉर्ड (223 चौके) तोड़ेंगे तो मुझे शिकायत नहीं होगी। हम दोनों एक साथ आरसीबी के लिए आईपीएल में खेले हैं। यहां तक कि कोहली काफी युवा हैं और वह 10 साल और क्रिकेट खेल सकते हैं। मुझे यकीन है कि वह कई चौके और छक्के जड़ सकते हैं और सभी विभागों में रिकॉर्ड बना सकते हैं। रिकॉर्ड हमेशा बरकरार नहीं रहते।”

श्रीलंका के पास है हार्दिक पांड्या से भी बड़ा 'सिक्सर किंग' !
श्रीलंका के पास है हार्दिक पांड्या से भी बड़ा 'सिक्सर किंग' !

उन्होंने आगे कहा, “युवा अच्छा कर रहे हैं और यह क्रिकेट के लिए अच्छा है। मौजूदा समय में क्रिस गेल जैसे अच्छे पावर टिहर हैं। टी20 क्रिकेट से ज्यादा वनडे में ज्यादा रिकॉर्ड बनाए जा सकते हैं। क्योंकि उसमें 300 गेंदें होती हैं जो 120 गेंदें से कहीं ज्यादा होती हैं।”