Today’s Sports News: क्राइस्टचर्च (Christchurch Test) में खेले गए टेस्‍ट सीरीज के दूसरे और आखिरी मुकाबले (India vs New Zealand) में न्‍यूजीलैंड ने भारत को सात विकेट से हराकर दो सीरीज से भारत को क्‍लीन स्‍वीप कर दिया.

मैच के तीसरे दिन भारतीय टीम 124 रन पर ऑलआउट हो गई. पहली पारी की बढ़त के आधार पर न्‍यूजीलैंड को जीत के लिए 132 रनों का लक्ष्‍य मिला. टॉम लेथम (52) और टॉम ब्‍लंडेल (55) ने पहले विकेट के लिए 103 रनों की साझेदारी बनाकर मैच को एक तरफा कर दिया.

पढ़ें:- भारत पर मंडराया हार का खतरा, टीम 124 रन पर ऑलआउट, लंच तक न्‍यूजीलैंड-46/0

न्‍यूजीलैंड की धरती पर अबतक सबसे छोटे लक्ष्‍य का बचाव 1992-93 में पाकिस्‍तान कर चुका है. उस वक्‍त न्‍यूजीलैंड को जीत के लिए 127 रन की दरकार थी, जिसे वो नहीं बना पाया. भारत को 132 रन के लक्ष्‍य का बचाव करना था, लेकिन पहले विकेट के लिए बनी साझेदारी भारत की सभी उम्‍मीदों पर पानी फिर गया.

भारत को उमेश यादव ने पहली सफलता दिलाई. उन्‍होंने टॉम लेथम को विकेट के पीछे रिषभ पंत के हाथों कैच आउट करवाया. कप्‍तान केन विलियमसन महज पांच रन का योगदान देने के बाद जसप्रीत बुमराह की गेंद पर अजिंक्‍य रहाणे को कैच दे बैठे. इसके बाद टॉम ब्‍लंडेल भी अर्धशतक पूरा करने के बाद बुमराह की गेंद पर ही बोल्‍ड हो गए.

पढ़ें:- जडेजा ने हवाई छलांग लगाकर कुछ इस अंदाज में लपका एक हाथ से कैच, बल्‍लेबाज रह गया हैरान

रॉस टेलर (5) और हेनरी निकोल्‍स (5) ने मेजबान टीम को जीत तक पहुंचाया. इससे पहले भारतीय टीम ने मैच के तीसरे दिन 90/6 रन से आगे खेलते हुए 34 रन जोड़े. भारतीय टीम महज एक घंटे भी बल्‍लेबाजी नहीं कर पाई. हनुमा विहारी नौ और रिषभ पंत चार रन बनाकर आउट हुए. वहीं, रवींद्र जडेजा 16 रन बनाकर नाबाद पवेलियन लौटे.

क्राइस्‍टचर्च टेस्‍ट में भारत ने पहले बल्‍लेबाजी करते हुए 242 रन बनाए थे. जवाब में मेजबान टीम 235 रन पर ऑलआउट हो गई. भारत के पास दूसरी पारी में बड़ा स्‍कोर बनाकर एडवांटेज लेने का मौका था, लेकिन विराट एंड कंपनी 124 रन ही बना पाए.