two former cricketers passed away a wave of mourning in indian cricket
प्रतीकात्मक तस्वीर @Twitter

बीते दो दिनों में देश के दो पूर्व क्रिकेटरों की अलग-अलग कारणों से मौत हो गई. मुंबई की पूर्व खिलाड़ी और स्कोरर रंजीता राणे कैंसर से जूझ रही थीं. बुधवार को उनका निधन हो गया. इसके अलावा घरेलू क्रिकेट में सौराष्ट्र का प्रतिनिधित्व करने वाले क्रिकेटर प्रभुभाई परमार का भी मंगलवार को कोविड-19 के कारण निधन हो गया. घरेलू स्तर पर खेल चुके इन दोनों क्रिकेटरों के निधन से भारतीय क्रिकेट में शोक की लहर है.

मुंबई क्रिकेट संघ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘बेहद दुख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि मुंबई की पूर्व क्रिकेटर और स्कोरर रंजीता राणे का निधन हो गया है.’ रंजीता को जानने वाले एमसीए के जाने माने स्कोरर ने बताया कि वह पिछले एक पखवाड़े से शहर के अस्पताल में भर्ती थीं. ऑलराउंडर रंजीता ने मुंबई के लिए 1995 से 2003 के बीच 44 प्रथम श्रेणी मैच खेले. उनकी उम्र 40 बरस से अधिक थी.

इसके अलावा घरेलू क्रिकेट में सौराष्ट्र का प्रतिनिधित्व करने वाले क्रिकेटर प्रभुभाई परमार का भी मंगलवार को कोविड-19 के कारण निधन हो गया. सौराष्ट्र क्रिकेट संघ ने मंगलवार देर रात जारी बयान में कहा, ‘एसएसए में सभी सौराष्ट्र के पूर्व क्रिकेटर प्रभुभाई परमार के निधन से बेहद दुशी हैं.’ परमार 76 साल के थे और उन्होंने 1968-69 में सौराष्ट्र के लिए चार रणजी मुकाबले खेले. इससे पहले सोमवार को प्रभुभाई की पत्नी की भी कोविड-19 से मौत हो गई थी.

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) और एससीए सचिव निरंजन शाह ने प्रभुभाई के निधन पर शोक जताया है. शाह ने दिसंबर 2017 में प्रभुभाई से मुलाकात और भावनगर में उनके निवास पर यादगार समय बिताने को याद किया.