two former umpires john holder and ismail dawood giled case on ecb for alleged racial discrimination
इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड @ECBTwitter

इंटरनेशनल क्रिकेट मैचों में अंपायरिंग कर चुके पूर्व अंपायर और पूर्व खिलाड़ी जॉन होल्डर (John Holder) और इस्माइल दाउद ने इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड पर नस्लीय भेदभाव के आरोप में मुकदमा ठोका है. इन दोनों अंपायरों ने अपने कार्यकाल के दौरान इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड पर संस्थागत नस्लवाद में शामिल होने के गंभीर आरोप लगाए हैं. इन दोनों खिलाड़ियों ने मांग की है कि इंग्लैंड क्रिकेट में देश के अल्पसंख्यक अधिकारियों की कमी है इसके कारण जानने के लिए स्वतंत्र जांच होनी चाहिए.

‘द गार्डियन’ की रिपोर्ट के अनुसार, ‘होल्डर ने क्रिसमस से 2 दिन पहले रोजगार ट्रिब्यूनल के लंदन कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई.’ हैंपशर के इस पूर्व क्रिकेटर होल्डर ने 3 दशक के अपने करियर में 11 टेस्ट और 19 वनडे में अंपायरिंग की है. होल्डर और पूर्व अंडर 19 क्रिकेटर दाउद ने ECB से मुआवजे की मांग की है. नॉर्थम्पटनशर, वोर्सेस्टरशर , ग्लेमोर्गन और यॉर्कशर के लिए खेल चुके दाउद अंपायरिंग में अपना करियर नहीं बना सके क्योंकि उन्हें पैनल में शामिल नहीं किया गया.

रिपोर्ट के अनुसार, ‘ECB के खिलाफ कानूनी कार्रवाई 1983 से 2009 के बीच उसके प्रथम श्रेणी अंपायर ने की है. होल्डर को 1991 में ईसीबी के टेस्ट मैचों से हटा दिया गया था. उन्होंने इससे कुछ सप्ताह पहले ही वेस्टइंडीज के खिलाफ ओवल पर एक टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाड़ी द्वारा कथित तौर पर गेंद से छेड़खानी की शिकायत की थी.’

उन्होंने कहा, ‘मुझे कहा गया कि एक साल में पैनल में डाल दिया जाएगा लेकिन ऐसा हुआ नहीं. 6 बार मुझसे जूनियर को प्रमोशन दे दिया गया. मुझे आज तक पता नहीं चला कि ऐसा क्यों किया गया. मुझे जिस तरह के उत्पीड़न और शोषण से गुजरना पड़ा, वह डरावना है.’

इनपुट : भाषा