मैच फिक्सिंग से जुड़े मामले में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को सही वक्‍त पर जानकारी नहीं देने के मामले में तीन साल बैन की सजा भुगत रहे उमर अकमल (Umar Akmal) के लिए रविवार को एक अच्‍छी खबर आई. पीसीबी ने सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज फकीर मोहम्मद खोखर को क्रिकेटर उमर अकमल पर लगे प्रतिबंध मामले की सुनवाई के लिए स्वतंत्र न्यायकर्ता चुना है.

पीसीबी की तरफ से बताया गया कि स्‍वतंत्र न्‍यायमूर्ति ही यह फैसला करेंगे कि मामले की सुनवाई कब करनी है. इससे पहले, जियो टीवी ने कहा था कि अकमल ने इस मामले के लिए बाबर अवान की फर्म से वकील नियुक्त किया है जो प्रधानमंत्री और संसदीय मामलों के सलाहकार हैं.

अकमल पीसीबी के अनुच्छेद 2.4.4 के दो नियमों का उल्लंघन के आरोप हैं. नौ अप्रैल को पीसीबी ने बल्लेबाज द्वारा भ्रष्टाचार रोधी अदालत में अपील नहीं करने के बाद यह मामला स्वतंत्र अनुशासन समिति के चेयरमैन के पास भेज दिया था.

इस समिति के चेयरमैन फजल-ए-मीरान चौहान ने इस मामले में अपना फैसला पीसीबी को दे दिया था. चौहान ने अकमल पर दोनों नियमों के उल्लंघन के कारण तीन साल का प्रतिबंध लगाया था जो 20 फरवरी 2020 से लागू हुआ है.