Umesh Yadav: difficult to contain lower-order with SG Test balls
Umesh Yadav © Getty Images (file photo)

भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज उमेश यादव भी ‘एसजी टेस्ट गेंद’ का विरोध करने वाले भारतीय खिलाड़ियों की जमात में शामिल हो गए हैं।

उमेश ने शुक्रवार को कहा कि इसके पुराने होने पर निचले क्रम के बल्‍लेबाजों को रोकना मुश्किल हो रहा है। भारतीय कप्तान विराट कोहली पहले ही इंग्लैंड में बनने वाली ड्यूक गेंद की पैरवी कर चुके हैं।

उमेश ने दूसरे टेस्ट के पहले दिन का खेल समाप्त होने के बाद प्रेस काफ्रेंस में कहा, ‘यदि आप कह रहे हैं कि निचले क्रम ने रन बनाए हैं तो आपको समझना होगा कि इस तरह की सपाट पिचों पर एसजी टेस्ट गेंदों से खेलना मुश्किल है। इससे रफ्तार या उछाल नहीं मिलती।’

उन्होंने कहा, ‘आप एसजी गेंद से एक ही जगह पर गेंद डाल सकते हैं लेकिन पिच से मदद नहीं मिलने पर कुछ नहीं हो सकता। मध्य और निचले क्रम के आने पर गेंद नरम हो जाती है और बल्लेबाजी आसान हो जाती है।’

उन्होंने कहा, ‘पुछल्ले बल्लेबाजों को पता है कि गेंद ना तो स्विंग लेगी और ना ही रिवर्स। आपको बस प्रयास करते रहना होता है । बड़े मैदान पर ऐसा नहीं हो सकता।’

‘शार्दुल लंबे स्‍पैल के लिए तैयार थे’

शार्दुल ठाकुर लंबे स्पैल के लिए तैयार थे लेकिन ग्रोइन चोट के कारण उन्‍हें मैदान से बाहर जाना पड़ा। उमेश ने कहा, ‘शार्दुल खेलते तो मैं स्पिनरों की और मदद कर सकता था। मुझे तीन विकेट मिले और अगर वह भी दो विकेट ले लेते तो हमारी टीम को मदद मिलती। लेकिन आप कुछ नहीं कर सकते। यह खेल का हिस्सा है।’

(इनपुट-एजेंसी)