Unfairly targetted over T-20 strike rate; Says Mithali Raj
Mithali Raj @IANS

टी-20 क्रिकेट में अपने स्ट्राइक रेट के लिए मिताली राज को अधिकतर आलोचनाओं का सामना करना पड़ता है लेकिन भारत की एकदिवसीय कप्तान हैरान हैं  कि आखिर क्यों बेहद खराब स्ट्राइक रेट से खेलने वाली खिलाड़ी उनकी तरह आलोचना का शिकार नहीं होतीं।

पढ़ें: अंडर-14 ट्रायल के समय मुझे अपनी उम्र की जानकारी नहीं थी: आफरीदी

मिताली का मानना है कि उन्हें हमेशा से अनुचित तरीके से निशाना बनाया गया जबकि छोटे प्रारूपों में कुछ अन्य खिलाड़ियों ने भी खराब प्रदर्शन किया।

मिताली ने ‘क्रिकबज’ को दिए साक्षात्कार में कहा, ‘पहले मैच (महिला टी-20 चैलेंज के) में कुछ खिलाड़ी थीं जिनका स्ट्राइक रेट 100 से कम था। क्या इसे मुद्दा बनाया गया? नहीं। इसकी आलोचना नहीं हुई क्योंकि वह मिताली राज नहीं थी।’

पढ़ें: ‘कोहली के पास एमएस धोनी जैसी मैच पढ़ने की काबिलियत नहीं’

युवा बल्लेबाज जेमिमा रोड्रिग्‍स का नाम लिए बगैर मिताली ने कहा कि शीर्ष क्रम की एक बल्लेबाज का स्ट्राइक रेट 50 का था। मिताली ने मुंबई की इस युवा खिलाड़ी का नाम नहीं लिया लेकिन उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 मैच में 22 गेंद में 11 रन बनाए और भारत यह मैच करीबी अंतर से हार गया।

मिताली ने पूर्व भारतीय खिलाड़ियों पर भी निशाना साधा जिन्होंने उनकी आलोचना करने के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल किया।