© AFP (File Photo)
© AFP (File Photo)

भारतीय सीमित ओवरों के कप्तान एमएस धोनी ने रविवार को कहा कि वर्ल्ड क्रिकेट अमेरिका में और भी टी20 मैच आयोजित करा सकता है बावजूद इसके कि इस साल का क्रिकेट शेड्यूल पूरी तरह से भरा हुआ है। भारत और वेस्टइंडीज के बीच दो टी20 मैचों की सीरीज का दूसरे मैच के बारिश में धुलने के कारण वेस्टइंडीज ने सीरीज 1-0 से अपने नाम कर ली। जब धोनी से अमेरिका की सरजमीं पर क्रिकेट डेब्यू के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि वह वापस आना चाहेंगे और यहां और भी क्रिकेट खेलना चाहेंगे।

धोनी ने पोस्ट मैच प्रेंजेंटेशन सेरेमनी में कहा, “यह एक ऐसी जगह है जहां हम वापस आना चाहेंगे और खूब क्रिकेट खेलना चाहेंगे। हम यहां त्रिकोणीय श्रृंखला या चार देशों की सीरीज या टी20 सीरीज खेल सकते हैं। शुरुआत करने के लिए टी20 सीरीज बेहतर है। वेन्यू बढ़िया है। हमने यहां पर लगातार दो मैच खेले हैं यहां अगली बार आने से अमेरिका में हमें समय गुजारने के लिए समय भी मिलेगा। यहां मैच खेलना हमारे शेड्यूल में फिट भी हो जाएगा क्योंकि इस सीजन में हम भारत में ज्यादा मैच नहीं खेलते।

दूसरे टी20 में अमित मिश्रा की गेंदबाजी से धोनी बहुत खुश हैं। धोनी ने कहा, “मुझे लगता है कि गेंदबाजों ने प्लान को सही तरीके से लागू किया। 150 का स्कोर प्राप्त करने के लिए अच्छा था। मैं ये नहीं कहता कि हम जरूर जीतते लेकिन अच्छी बल्लेबाजी होती तो हम जरूर जीतते आप दोनों मैचों की तुलना करें तो आपको ये जानकर हैरानी होगी कि हम पहले मैच वाली ही विकेट पर खेल रहे थे। हमने ये महसूस किया कि हमें एक्सट्रा गेंदबाज की जरूरत थी और लेग स्पिनर आपको विकेट दिला सकता है। मिश्रा ने बहुत अच्छी गेंदबाजी की। उसने प्रेशर बनाया और अश्विन ने भी उसे बहुत अच्छा सहयोग दिया। दोनों ने बेहतरीन प्रयास किए।”

वेस्टइंडीज के कप्तान कर्लोस ब्रेथवेट ने कहा कि भले हि वे बड़ा स्कोर खड़ा नहीं कर पाए लेकिन वह जीत को लेकर आश्वस्त थे। उन्होंने कहा, “विकेट बहुत स्लो था और उनके गेंदबाजों ने बढ़िया गेंदबाजी की। उनके लिए तालियां। भारतीय गेंदबाजों ने वास्तव में प्लान को बहुत अच्छी तरीके से लागू किया। हमने अपना सर्वोच्च दिया लेकिन वह स्कोर हासिल नहीं कर पाए जिसकी हमें उम्मीद थी। लेकिन हमें इस स्कोर को बचाने में पूरा विश्वास था।”