Usman Khawaja working to increase South Asian representation in Australian cricket
उस्मान ख्वाजा © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया के पहले मुस्लिम क्रिकेट खिलाड़ी उस्मान ख्वाजा अपने देश की क्रिकेट में दक्षिण एशियाई मूल के लोगों का अधिक प्रतिनिधित्व सुनिश्चित करने के लिए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) के साथ काम कर रहे हैं। ख्वाजा ने खुलासा किया कि करियर की शुरुआत में उन्हें भी नस्लवाद का सामना करना पड़ा था।

साल 2011 के एशेज टेस्ट में अपने घरेलू मैदान एससीजी (सिडनी) में अंतरराष्ट्रीय डेब्यू के साथ ही ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व करने वाले पहले मुस्लिम और पाकिस्तानी मूल के खिलाड़ी बने थे।

ख्वाजा ने अक्सर ऑस्ट्रेलिया में शीर्ष स्तर की क्रिकेट खेलने में होने वाली चुनौतियों के बारे में बात की है। ‘ ईएसपीएनक्रिकइंफो ’ के मुताबिक ख्वाजा ने कहा, ‘‘अब स्थिति काफी बेहतर है।’’

WTC फाइनल दो टीमों से ज्यादा दो कप्तानों के स्टाइल का मुकाबला: Brett Lee

उन्होंने कहा, ‘‘मैं ऑस्ट्रेलिया में राज्य स्तर पर बहुत सारे ऐसे क्रिकेटरों को देख रहा हूं, खासतौर पर उपमहाद्वीप की पृष्ठभूमि वाले खिलाड़ियों। जब मैंने खेलना शुरू किया था तब वास्तव में ऐसा नहीं था। जब मैं घरेलू क्रिकेट खेल रहा था और मैं वहां इकलौता उपमहाद्वीप का खिलाड़ी था। इस समय शायद मेरे साथ कुछ अन्य खिलाड़ी है।’’

ऑस्ट्रेलिया के लिए 44 टेस्ट में लगभग 3,000 और 40 वनडे में लगभग 1,500 रन बनाने वाले 34 साल के बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा कि विविधता के मामले में उनकी टीम इंग्लैंड की टीम से सीख ले सकती है।

इंग्लैंड के वनडे टीम का नेतृत्व आयरलैंड के इयोन मॉर्गन कर रहे हैं जबकि उनके प्रमुख तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर बारबाडोस से हैं। मोईन अली और आदिल राशिद पाकिस्तानी मूल के ब्रिटिश एशियाई हैं। बेन स्टोक्स जन्म से न्यूजीलैंड के हैं।

ख्वाजा ने कहा, ‘‘हमें अभी भी एक लंबा रास्ता तय करना है और मैं इंग्लैंड की टीम को देखता हूं तो उनके पास लंबे समय से विविधता है। वे हमसे पुराने राष्ट्र हैं , लेकिन मैं उस विविधता को देख सकता हूं और सोच सकता हूं कि शायद यही वह जगह है जहां ऑस्ट्रेलिया को पहुंचने की जरूरत है।’’

पाकिस्तान के इस्लामाबाद में जन्मे और ऑस्ट्रेलिया में बसने के बाद वहां की नागरिकता लेने वाले ख्वाजा ने कहा, ‘‘जब मैं युवा खिलाड़ी था तब के मुकाबले अब स्थिति बेहतर है , लेकिन यह एक पीढ़ीगत बदलाव के बारे में है।’’