बॉल टैंपरिंग मामले में लगे बैन और निराशाजनक एशेज सीरीज के बाद ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज डेविड वार्नर (David Warner) ने एडिलेड टेस्ट में पाकिस्तान के खिलाफ 335 रनों की रिकॉर्ड पारी खेलकर अपने आलोचकों को करारा जवाब दिया।

इस दौरान वार्नर ने अपने फैंस का दिन भी बना दिया। दरअसल पूर्व ऑस्ट्रेलियाई उपकप्तान ने करियर का पहला तिहरा शतक जड़ने के बाद वार्नर ने अपना हेलमेट और दस्ताने उतार कर नन्हें फैंस को दे दिए। वेबसाइट नाइन में छपी खबर के मुताबिक वार्नर का ये हेलमेट SACA संग्रहालय को दान में दिया जाएगा। जहां इसे क्रिकेट इतिहास से जुड़ी एक याद के तौर पर रखा जाएगा।

पाकिस्तान के खिलाफ मैच में दूसरे टेस्ट मैच में 418 गेंदो पर 39 चौकों और एक छक्के की मदद से 335 रन की नाबाद पारी खेलकर वार्नर ऑस्ट्रेलिया के लिए टेस्ट क्रिकेट में सबसे बड़ा स्कोर बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज बन गए हैं। वार्नर ने महान खिलाड़ी सर डॉन ब्रैडमन (Sir Don Bradman) और मार्क टेलर (Mark Taylor) की 334 रन की पारी को पीछे छोड़ दिया है। हालांकि वो पूर्व क्रिकेटर मैथ्यू हेडन (Matthew Hayden) की 380 रनों की पारी से पीछे हैं।

वार्नर के 335 रन बनाने के तुरंत बाद कप्तान टिम पेन ने 589/3 के स्कोर पर पारी घोषित करने का ऐलान किया। हालांकि पेन के इस फैसले से कई फैंस नाराज हुए और कंगारू कप्तान की आलोचना की। दरअसल ऑस्ट्रेलियाई फैंस चाहते थे कि वार्नर विंडीज दिग्गज ब्रायन लारा के 400 रन के विश्व रिकॉर्ड को पार करें।

हालांकि वार्नर ने कप्तान का बचाव किया और कहा कि एडिलेड के मौसम को देखते हुए पारी घोषित करने का वो सही समय था। मैच के तीसरे दिन ऑस्ट्रेलियाई ने पाकिस्तान को 302 रन पर ऑलआउट कर फॉलोऑन दिया है।