हार्दिक पांड्या और जसप्रीत बुमराह © Getty Images (File Photo)
हार्दिक पांड्या और जसप्रीत बुमराह © Getty Images (File Photo)

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे पांचवें वनडे मैच में टीम इंडिया के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने शानदार कैच पकड़कर हर किसी को हैरान कर दिया। दरअसल, ऑस्ट्रेलियाई पारी के 12वें ओवर के दौरान एरन फिंच क्रीज पर थे और वो शानदार बल्लेबाजी भी कर रहे थे। इस दौरान विराट कोहली ने हार्दिक पांड्या को गेंद सौंपी। तीसरी गेंद को पांड्या ने फुल लेंथ फेंकी और गेंद की लाइन ऑफ स्टंप के बाहर रखी। इस दौरान फिंच गेंद को लॉन्ग ऑफ के ऊपर से खेलना चाहते थे लेकिन गेंद उनके बल्ले पर ठीक तरीके से नहीं आई और 30 गज के लगभग आखिर में खड़े बुमराह के पास चली गई।

जब गेंद बुमराह के पास आई तो उन्होंने उसे कैच करने की कोशिश की। गेंद बुमराह के हाथों पर ठीक तरीके से नहीं आई और हथेली पर लगकर उनके पेट को छूती हुई पैरों पर चली गई। कैच लेने की इस कोशिश में बुमराह गिर गए लेकिन उन्होंने गेंद को जमीन पर नहीं गिरने दिया और आखिर में उन्होंने गेंद को लगभग मैदान पर गिरने से पहले ही एक हाथ से उठा लिया। बुमराह के इस शानदार कैच को देखकर हर कोई हैरान था और खुश भी। हालांकि इसके बाद अंपायरों ने इस फैसले को थर्ड अंपायर के पास भेजा। ये भी पढ़ें: सीरीज में लगातार तीसरी बार डेविड वॉर्नर-एरन फिंच ने दिया इस कारनामे को अंजाम

थर्ड अंपायर ने कैच को रीप्ले में देखकर फिंच को आउट करार दे दिया। अगर बुमराह फिंच का ये कैच छोड़ देते तो भारत के लिए ये बहुत महंगा साबित हो सकता था क्योंकि फिंच ने वापसी के बाद से ही सीरीज के पहले मैच में शतक और दूसरे मैच में 94 रनों की पारी खेली थी। तीसरे मैच में भी फिंच को शुरुआत मिल गई थी और उन्होंने आउट होने से पहले 36 गेंदों में 32 रन बनाए थे। अपनी पारी में उन्होंने 6 चौके भी लगाए। फिंच के रूप में पांड्या ने भारत को पहली सफलता दिलाई। फिंच और वॉर्नर ने पहले विकेट के लिए 66 रन जोड़े। खबर लिखे जाने तक ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 106 रन पर 2 विकेट हो चुका था।