हरभजन सिंह  © Getty Images
हरभजन सिंह © Getty Images

नई दिल्ली। कप्तान हरभजन सिंह के फिरकी के जादू के बाद गुरकीरत सिंह मान के शानदार अर्धशतक की बदौलत पंजाब ने विजय हजारे ट्राफी ग्रुप ए मैच में हरियाणा को पांच विकेट से हराकर नॉकआउट में प्रवेश की उम्मीदें जीवंत रखी हैं। पंजाब ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया जिसके बाद हरभजन(33 रन पर चार विकेट) और बलतेज सिंह(34 रन पर दो विकेट) की उम्दा गेंदबाजी के सामने हरियाणा की टीम 48.5 ओवर में 196 रन पर ढेर हो गई।

हरियाणा की ओर से सलामी बल्लेबाज नितिन सैनी ने सर्वाधिक 48 रन बनाए जबकि चैतन्य बिश्नोई ने 38 रन की पारी खेली। राहुल तेवतिया 34 रन बनाकर नाबाद रहे। इसके जवाब में पंजाब की टीम एक समय 75 रन पर चार विकेट गंवा चुकी थी लेकिन गुरकीरत(नाबाद 91) ने पांचवें विकेट के लिए मोहित हांडा (18) के साथ 64 और निखिल चौधरी(नाबाद 14) के साथ छठे विकेट के लिए 71 रन की अटूट साझेदारी करके 41.4 ओवर में टीम का स्कोर पांच विकेट पर 200 रन तक पहुंचाकर उसे जीत दिला दी। इस जीत से पंजाब के पांच मैचों में 12 अंक हो गए हैं जबकि हरियाणा के चार मैचों में आठ अंक हैं।

वहीं एक दूसरे मैच में सलामी बल्लेबाजों प्रशांत गुप्ता और शिवम चौधरी के शतक और दोनों के बीच पहले विकेट की 249 रन की साझेदारी से उत्तर प्रदेश ने विजय हजारे ट्राफी ग्रुप बी मैच में महाराष्ट्र को 104 रन से हराया। गुप्ता ने 117 गेंद में 12 चौकों और चार छक्कों की मदद से 129 जबकि चौधरी ने 115 गेंद में 15 चौकों और दो छक्कों की मदद से 116 रन की पारी खेली जिससे उत्तर प्रदेश ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट पर 370 रन विशाल स्कोर खड़ा किया।  [ये भी पढ़ें: भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया, दूसरा टेस्ट(प्रिव्यू): भारत का इरादा सीरीज में वापसी करने का होगा]

महाराष्ट्र की ओर से श्रीकांत मुंधे ने तीन जबकि जगदीश जोप ने दो विकेट चटकाए। इसके जवाब में शीर्ष पर चल रही महाराष्ट्र की टीम कप्तान केदार जाधव (68), सलामी बल्लेबाज रूतुराज गायकवाड़(59) और राहुल त्रिपाठी(57) के अर्धशतकों के बावजूद 38.5 ओवर में 266 रन पर ढेर हो गई। उत्तर प्रदेश की ओर से पीयूष चावला ने 50 रन देकर पांच विकेट चटकाए जबकि अंकित राजपूत और अक्षदीप नाथ ने दो-दो विकेट हासिल किए। महाराष्ट्र की पांच मैचों में यह पहली हार है लेकिन इसके बावजूद टीम 16 अंक के साथ शीर्ष पर बरकरार है। उत्तर प्रदेश के चार मैचों में दो जीत से आठ अंक हैं।

तीसरे मैचे में गुजरात ने कप्तान और विकेटकीपर पार्थिव पटेल के शतक के बाद जसप्रीत बुमराह(29) रन देकर चार विकेट और रूजुल भट्ट(21 रन देकर तीन विकेट) की शानदार गेंदबाजी के बदौलत आज यहां विजय हजारे ट्राफी के एकदिवसीय लीग मैच में आंध्र पर 182 रन की बड़ी जीत दर्ज की। गुजरात ग्रुप सी की अंक तालिका में पांच में से तीन मैच जीतकर 12 अंक से दूसरे स्थान पर पहुंच गया है।

बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद गुजरात ने पटेल की 104 रन(123 गेंद में 11 चौके) की शतकीय और रोहित दहिया(नाबाद 53 रन, 39 गेंद में तीन चौके और तीन छक्के) की अर्धशतकीय पारी से निर्धारित 50 ओवर में सात विकेट गंवाकर 288 रन बनाये। आंध्र के बंडारू अयप्पा को 10 ओवर में 72 रन देकर तीन विकेट मिले। इसके जवाब में आंध्र की टीम गुजरात के गेंदबाजों के सामने 31.5 ओवर में महज 106 रन पर सिमट गई। उसके लिए सर्वाधिक रन द्वारकर रवि तेजा(44 रन) ने बनाए, उनके अलावा सिर्फ एक बल्लेबाज प्रशांत कुमार(10 रन) दोहरे अंक तक पहुंच सका। बुमराह ने 8.5 ओवर में 29 रन देकर चार, भट्ट ने पांच ओवर में 21 रन देकर तीन जबकि ईश्वर चौधरी ने दो और ए पंचाल ने एक विकेट झटका।

चौथे मैच में अभिमन्यु ईश्वरन के करियर के पहले शतक और अनुभवी प्रज्ञान ओझा की शानदार गेंदबाजी से बंगाल ने आज यहां मुंबई को 96 रन से हराकर विजय हजारे ट्राफी एकदिवसीय क्रिकेट टूर्नामेंट में अपनी लगातार चौथी जीत दर्ज की। ईश्वरन ने ग्रुप सी के इस मैच में 152 गेंदों पर आठ चौकों और दो छक्कों की मदद से 127 रन बनाये जिससे पहले बल्लेबाजी का फैसला करने वाला बंगाल शादरुल ठाकुर(47 रन पर चार विकेट) और अभिषेक नायर(35 रन देकर तीन विकेट) की शानदार गेंदबाजी के बावजूद 48.5 ओवर में 230 रन बनाने में सफल रहा। इसके जवाब में मुंबई की टीम 36.2 ओवर में 134 रन पर ढेर हो गई। उसकी तरफ से सर्वाधिक 34 रन श्रेयस अय्यर ने बनाए। बाएं हाथ के स्पिनर ओझा ने 28 रन देकर तीन और सयान घोष ने 48 रन देकर तीन विकेट लिये। बंगाल की यह चार मैचों में चौथी जीत है जिससे वह ग्रुप सी में 16 अंक लेकर शीर्ष पर बना हुआ है। मुंबई को चार मैच में दूसरी हार का सामना करना पड़ा। उसके अब भी आठ अंक हैं।