Vijay Hazare Trophy: jammu kashmir team to practice in baroda amid aborgation of afticale 370/kk
Irfan Pathan (File Photo) © IANS

संचार सुविधाओं पर रोक के कारण आगामी घरेलू सीजन के लिए ट्रेनिंग करने में नाकाम रहे जम्मू-कश्मीर के क्रिकेटर अंतत: एक साथ जुट हो गए हैं और गुरुवार से बड़ौदा में ट्रेनिंग शुरू करेंगे।

जम्मू-कश्मीर क्रिकेट संघ (जेकेसीए) ने संपर्क से बाहर हुए घाटी के अपने खिलाड़ियों से संपर्क करने के लिए पिछले हफ्ते स्थानीय टीवी चैनलों पर विज्ञापन दिए थे। राज्य को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को रद्द करने के बाद कश्मीर घाटी में संचार सुविधाओं को सीमित किया गया है।

पढ़ें:- टी20 अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट से मिताली के संन्‍यास पर पूर्व कप्‍तान ने कहा- अब तुम..

टीम के खिलाड़ी सह मेंटर इरफान पठान ने बताया कि टीम मोती बाग ग्राउंड पर ट्रेनिंग करेगी जो बड़ौदा के राजसी गायकवाड़ परिवार का है।

पठान ने कहा, ‘‘सभी खिलाड़ी जम्मू में एक साथ आ गए हैं और एक दिन बाद बड़ौदा पहुंचेंगे। टीवी पर विज्ञापन देने की योजना ने निश्चित तौर पर काम किया। कश्मीर के सभी खिलाड़ियों ने विज्ञापन देखा और जम्मू में जेकेसीए के कार्यालय में पहुंचे।’’

पढ़ें:-ICC Test Championship, Points Table: भारत ने नंबर-1 पर मजबूत की जगह

टीम के पास 24 सितंबर से शुरू हो रहे विजय हजारे ट्राॅफी के लिए तैयार होने की कड़ी चुनौती है। भारत की ओर से 29 टेस्ट और 120 वनडे  खेलने वाले पठान ने कहा, ‘‘यह बड़ी चुनौती है लेकिन हमें हमारे पास जो भी समय है उसका सर्वश्रेष्ठ इस्तेमाल करना होगा। हमें जितना अधिक संभव हो उतने अभ्यास मैच खेलने होंगे और टीम की एकजुटता से जुड़ी गतिविधियों में हिस्सा लेना होगा। खिलाड़ियों की फिटनेस पर काम करने का समय नहीं है।’’