विराट कोहली © IANS
विराट कोहली © IANS

भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली को 10वें सालाना ईएसपीएन क्रिकइंफो पुरस्कारों में ‘वर्ष का सर्वश्रेष्ठ कप्तान’ चुना गया। कोहली ने भारतीय टीम की अगुवाई करते हुए पिछले साल 12 टेस्ट में से नौ में जीत दिलाई। इंग्लैंड के बेन स्टोक्स ने केपटाउन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 198 गेंद में 258 रन की शानदार पारी के लिए टेस्ट में ‘वर्ष का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी प्रदर्शन’ करने का पुरस्कार जीता। स्टोक्स के साथी स्टुअर्ट ब्रॉड के तीसरे टेस्ट में 17 रन देकर छह विकेट चटकाने वाले प्रदर्शन ने इंग्लैंड के लिए सीरीज में जीत सुनिश्चित की जिसकी बदौलत उन्हें लगातार दूसरे साल ‘वर्ष का सर्वश्रेष्ठ टेस्ट गेंदबाज’ चुना गया। पूर्व महान क्रिकेटरों, ईएसपीएन क्रिकइंफो के वरिष्ठ संपादकों, लेखकों और वैश्विक संवाददाताओं की स्वंतत्र ज्यूरी ने विजेताओं का चयन किया। जिसमें इयान चैपल, माहेला जयवर्धने, रमीज राजा, ईसा गुहा, सम्बित बाल, कर्टनी वॉल्श, मार्क बुचर और साइमन टफेल शामिल हैं।

सेंचुरियन में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्विंटन डि कॉक की 178 रन की पारी किसी दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी का दूसरा सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत स्कोर है और इसे वर्ष का सर्वश्रेष्ठ वनडे बल्लेबाजी प्रदर्शन चुना गया। रहस्यमयी स्पिनर सुनील नारायण को वनडे में वर्ष का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज चुना गया, उन्होंने गुयाना में त्रिकोणीय श्रृंखला में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 27 रन देकर छह विकेट चटकाए थे। कार्लोस ब्रैथवेट टी20I में वर्ष के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज चुने गए, उन्होंने कोलकाता में विश्व टी20 फाइनल में इंग्लैंड के खिलाफ नाबाद 34 रन बनाए जिसमें उन्होंने अंतिम ओवर में लगातार चार छक्के जड़कर वेस्टइंडीज को विश्व चैंपियन बना दिया था। बांग्लादेश के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान को टी20I में वर्ष का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन करने वाला आंका गया, उन्होंने कोलकाता में न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टी20 के दौरान 22 रन देकर पांच विकेट प्राप्त किए। बांग्लादेश की राष्ट्रीय टीम के सबसे चमकदार युवा स्टार मेहेदी हसन मिराज को इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों में 19 विकेट झटकने के लिए वर्ष का पदार्पण करने वाला सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया। ये भी पढ़ें: दूसरे टेस्ट मैच में इन तीन खिलाड़ियों पर गिर सकती है गाज

इस साल ईएसपीएन क्रिकइंफो ने सभी तीनों अंतरराष्ट्रीय प्रारूपों में महिला क्रिकेट के लिए भी पुरस्कार शुरू किए। वेस्टइंडीज की हेयले विलियम्स को तीन बार की चैंपियन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विश्व टी20 फाइनल में 45 गेंद में 66 रन की मैच विजेता पारी के लिए वर्ष का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी प्रदर्शन करने का पुरस्कार दिया गया। न्यूजीलैंड के प्रतिभाशाली ऑफ स्पिनर लेघ कास्पेरेक वर्ष की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज चुनीं गईं। उन्होंने विश्व टी20 ग्रुप मैचों में 13 रन देकर तीन विकेट प्राप्त किए जिससे ऑस्ट्रेलियाई टीम हार गई थी।