Virat Kohli believes new crop of Indian cricketers are fearless and confident
Virat Kohli (File Photo) © Getty Image

भारतीय टीम के कप्‍तान विराट कोहली का मानना है कि मौजूदा समय में टीम इंडिया में आए युवा खिलाड़ी पहले से ज्‍यादा आत्‍मविश्‍वास से भरे हुए हैं। वो मैदान पर क्रिकेट खेलने के दौरान एक दम निडर रहते हैं।

इंग्‍लैंड के दौरे के दौरान टीम इंडिया में रिषभ पंत और हनुमा विहार ने डेब्‍यू किया जबकि वेस्‍टइंडीज सीरीज में पृथ्‍वी शॉ को डेब्‍यू करने का मौका मिला। इन सभी खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन कर प्रभावित किया है। इंग्‍लैंड के खिलाफ रिषभ पंत ने शतकीय पारी खेली थी। पृथ्‍वी ने वेस्‍टइंडीज के खिलाफ अपने डेब्‍यू मैच में ही शतक जड़ दिया। हनुमा विहारी ने भी बल्‍ले और गेंद से शानदार प्रदर्शन किया था।

12 अक्‍टूबर को वेस्‍टइंडीज के खिलाफ शुरू हो रहे दूसरे टेस्‍ट से एक दिन पहले विराट ने कहा, “ये युवा खिलाड़ी हमारे लिए हमेशा से ही एडवांटेज पैदा करते रहे हैं। ये खिलाड़ी निडर हैं। आईपीएल के दौरान ये युवा खिलाड़ी टॉप क्‍वालिटी की विरोधी टीम के खिलाफ उतरते है, जिसके कारण उनके अंदर अब काफी आत्‍मविश्‍वास आ गया है।”

विराट कोहली ने कहा कि आज से 10 से 15 साल पहले ऐसी स्थिति नहीं थी। युवाओं को इतना एक्‍सपोजर नहीं मिल पाता था। आईपीएल के कारण आजकल युवा खिलाड़ी बड़े स्‍तर पर हजारों लोगों के सामने क्रिकेट खेलते हैं। ऐसे में जब उन्‍हें अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में मौका मिलता है तो वो घबराते नहीं हैं।

विराट का मानना है कि देश के लिए खेलते वक्‍त निश्चित तौर पर थोड़ा प्रैशर तो युवाओं में आ ही जाता होगा। जब सुबह आपको टेस्‍ट कैप मिली हो और फिर आप मैदान में हो तो हमेशा ही आपके पेट में तितलियां उड़ रही होती हैं।