विराट कोहली © Getty Images
विराट कोहली © Getty Images

भारतीय क्रिकेट टीम के निदेशक रवि शास्त्री ने भारत में जारी टी-20 विश्व कप में लगातार शानदार प्रदर्शन करने वाले बल्लेबाज विराट कोहली की जमकर तारीफ की है। भारत को टी-20 विश्व कप के दूसरे सेमीफाइनल में गुरुवार को वानखेडे स्टेडियम में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलना है। कोहली ने विश्व कप के चार मैचों में अभी तक 182 रन बनाए हैं। इसमें आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई 51 गेंदों में 82 रनों की पारी शामिल है जिसके बलबूते भारतीय टीम विश्व कप के सेमीफाइनल में जगह बना पाई। शास्त्री ने कहा, “विराट की पारी लाजवाब थी। टी-20 क्रिकेट की सबसे अच्छी पारियों में से एक। मैं नहीं जानता कि टी-20 कितने समय तक खेला जाएगा, लेकिन जब भी आप इस परिस्थिति को देखेंगे, उसमें उन्होंने जिस तरह से शॉट खेले, वे अविश्वसनीय थे। सभी क्रिकेटिंग शाट थे और मैदान के हर कोने में लगाए गए।”

शास्त्री ने कहा, “मैने जब से पद संभाला है, मुझे उन पर किसी भी तरह का कोई शक नहीं था। उनकी फॉर्म को देखकर मैं जानता था कि वह सही रास्ते पर हैं। आपको उन्हें अपने आप में विश्वास करने का श्रेय देना होगा।” ये भी पढ़ें: वेस्टइंडीज के कप्तान डेरेन सैमी ने कहा टीम इंडिया हमसे मजबूत

शास्त्री ने कहा, “विराट से ज्यादा मेहनत कोई और नहीं करता है। अगर वह पिछले 18 महीनों से लगातार सफल हो रहे हैं तो इसका श्रेय उनकी मेहनत को और खुद की क्षमता पर उनके विश्वास को जाता है।” ये भी पढ़ें: टी20 विश्व कप: भारत बनाम वेस्टइंडीज, टीम इंडिया के संभावित ग्यारह खिलाड़ी

शास्त्री ने अभी तक टीम के साथ अपने कार्यकाल पर कहा, “यह काफी लंबा सफर रहा है। अगर मैं आपको अभी बताना शुरू करूं तो मुझे खत्म करने के लिए एक महीना लगेगा। हमारे सामने सेमीफाइनल है, इसलिए मैं अगर संक्षेप में कहूं तो यह मेरा विश्वास था कि यह अच्छी टीम है। यह टीम मेहनत से नहीं भागती, न ही उससे समझौता करती है।”

भारतीय टीम के लिए सेमीफाइनल से पहले सबसे बड़ी चिंता सलामी बल्लेबाजों रोहित शर्मा और शिखर धवन और मध्य क्रम में सुरेश रैना का लगातार रन न बना पाना है।

इस पर शास्त्री ने कहा, “आपको इसकी जरूरत सेमीफाइनल जैसे बड़े मुकाबले में होती है। मेरा मानना है कि अभी तक हमने अपनी क्षमता का 70 फीसदी खेल ही खेला है। 30 फीसदी क्षेत्र में हमें अभी भी सुधार करने की जरूरत है। उम्मीद कीजिए ऐसा कल (गुरुवार) हो।” ये भी पढ़ें: टी20 विश्व कप में इंडिया के खिलाफ वेस्टइंडीज के संभावित ग्यारह खिलाड़ी

उन्होंने कहा, “आप एक-दो खिलाड़ियों पर निर्भर नहीं रह सकते। छह-सात खिलाड़ियों को आगे आना पड़ता है। यह अभी तक नहीं हुआ है। उम्मीद है कि कल (गुरुवार) को ऐसा हो जाए।”

शास्त्री ने भारतीय गेंदबाजी की भी तारीफ की। उन्होंने कहा, “ऐसी कोई वजह ही नहीं जिसके कारण वह यहां अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकते। बेंगलुरु और मोहाली की विकेट अच्छी थी। वे लगातार वही करते आ रहे हैं जो उन्हें करना चाहिए।”