Virat Kohli doesn’t need to tone down his aggression says Zaheer Khan
virat kohli with team

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारतीय कप्तान विराट कोहली के रवैये को लेकर लगातार बातें की जा रही है। कोहली के बर्ताव को लेकर पूर्व ऑस्ट्रेलियन से लेकर भारतीय खिलाड़ी तक बात कर चुके हैं। किसी ने कोहली का समर्थन किया है तो किसी ने उनको गलत बताया।

पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज जहीर खान और प्रवीण कुमार ने अपने मैदानी व्यवहार के कारण ऑस्ट्रेलियाई दिग्गजों की आलोचना झेल रहे भारतीय कप्तान विराट कोहली का बचाव करते हुए बुधवार को कहा कि वह जैसे हैं उन्हें वैसा ही रहना चाहिए।

विराट-टिम पेन के बीच कुछ भी मर्यादा से बाहर नहीं हुआ: लैंगर

एलन बॉर्डर, माइक हसी, मिशेल जानसन और यहां तक भारत के संजय मांजरेकर ने कोहली के मैदानी व्यवहार पर नाराजगी जतायी।

जहीर ने पीटीआई से कहा, ‘‘मैं यही कहूंगा कि विराट को जो सबसे अच्छा लगता है वे उस पर कायम रहें। आपको जिसमें सफलता मिलती है वे उस पर कायम रहें। आपको सफलता के अपने फार्मूले से नहीं हटना चाहिए। यह मायने नहीं रखता कि बाकी क्या कह रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया में सीरीज हमेशा इस तरह से कड़ी होती है। ’’

कप्तान विराट कोहली का बर्ताव ‘अपमानजनक’ और ‘मूर्खतापूर्ण’

पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज प्रवीण कुमार ने भी जहीर की हां में हां मिलाई। प्रवीण ने कहा, ‘‘कोहली अंडर-16, अंडर-19 और रणजी ट्रॉफी स्तर से ही आक्रामकता के साथ खेलता रहा है। अगर वह भारत की तरफ से खेलते हुए वही आक्रामकता दिखा रहा है तो यह क्या मुद्दा है। मैंने उसके साथ काफी क्रिकेट खेली है और मैं कह सकता हूं कि वह आक्रामकता के बिना अपनी सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट नहीं खेल सकता।’’

इससे पहले पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिशेल जॉनसन ने कहा था, ‘‘मैच के अंत में आप एक दूसरे से आंखें मिलाने, हाथ मिलाने और यह कहने की स्थिति में होने चाहिए कि शानदार मुकाबला रहा। विराट कोहली ने टिम पेन के साथ ऐसा नहीं किया। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान के साथ हाथ मिलाए लेकिन बामुश्किल आंखें मिलाई। मेरे लिए यह अपमानजनक है।’’