मौजूदा दौर के सबसे सफल बल्‍लेबाज विराट कोहली (Virat Kohli) का मानना है कि वनडे, टेस्‍ट और टी20 क्रिकेट में से उनकी नजर में सर्वश्रेष्‍ठ खेल का सबसे लंबा प्रारूप ही है. भारत के लिए टेस्‍ट क्रिकेट (Test Cricket) खेल पाने के लिए विराट कोहली खुद को भाग्‍यशाली समझते हैं.

टेस्ट क्रिकेट में भारत के सबसे सफल कप्तान कोहली ने ट्वीट किया, ‘‘कुछ भी चीज सफेद कपड़ों (Test Cricket) में कड़ा मैच खेलने के करीब नहीं है. मैं भाग्यशाली हूं कि भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट खेल पाया.’’

कोहली ने 55 टेस्ट में भारत की कप्तानी की है जिसमें टीम ने 33 मैचों में जीत दर्ज की जबकि 12 में उसे हार का सामना करना पड़ा. भारत की ओर से कोहली ने अब तक 86 टेस्ट 53.62 की औसत से 7240 रन बनाए हैं जिसमें 27 शतक और 22 अर्धशतक शामिल हैं. उन्होंने इसके अलावा 248 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में 43 शतक और 58 अर्धशतक की मदद से 11867 रन बनाए हैं जबकि 82 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में उनके नाम पर 2794 रन दर्ज हैं.

कोरोना वायरस महामारी के कारण दुनिया भर में क्रिकेट प्रतियोगिताएं ठप्प पड़ी हैं और भारत को भी अपना अगला टेस्ट दिसंबर से पहले नहीं खेलना है जब टीम चार टेस्ट की श्रृंखला के लिए ऑस्ट्रेलिया का दौरा करेगी.