Virat Kohli: Focus is purely and solely on making the team win at any cost
Virat Kohli © AFP

भारतीय कप्तान विराट कोहली अपनी आक्रामक छवि के लिए जाने जाते है। ये स्वभाव उनकी बल्लेबाजी और कप्तानी दोनों में ही दिखता है। अगर मैदान पर हुई कोई बात कोहली को सही नहीं लगती तो वो खुलकर अपनी प्रतिक्रिया देते हैं। इसके चलते वो कोई बार विपक्षी टीम के खिलाड़ियों और यहां तक कि अंपायर से भी भिड़ चुके हैं। लेकिन भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर इस तरह की चीजें देखने को नहीं मिलेगी, क्योंकि कोहली ने कहा कि वो टीम को जीत दिलाने पर ही पूरा ध्यान लगाएंगे।

सिडनी के एक स्पोर्ट्स रेडियो से बातचीत में कोहली ने कहा, “मुझे लगता है कि पिछली बार से मैं अपने बारे में और ज्यादा निश्चित हो गया हूं। मुझमें किसी को कुछ साबित करने की कोई इच्छा नहीं है। मेरे अंदर किसी चीज को लेकर विपक्षी टीम से भिड़ने की भी कोई इच्छा नहीं है और मुझे लगता कि जैसे जैसे हम आगे बढ़ते हैं, इस तरह के बदलाव होते रहते हैं।”

कोहली ने आगे कहा, “मेरे करियर की शुरुआत में मैं सोचा करता था कि ये सारी चीजें किसी के करियर के लिए जरूरी होती हैं, लेकिन अब मेरा पूरा ध्यान केवल और केवल किसी भी हाल में टीम को जीत दिलाने पर है।” ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20  सीरीज में 1-1 से बराबरी करने के बाद टीम इंडिया अब 6 दिसंबर को एडिलेड में कंगारू टीम के खिलाफ पहला टेस्ट मैच खेलेगी।