Virat Kohli Quinton de Kock IANS
Virat Kohli handed one demerit point for shoulder contact with Beuran Hendricks
Virat Kohli with Quinton de Kock @ IANS

भारतीय कप्तान विराट कोहली को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच के दौरान तेज गेंदबाज ब्यूरॉन ब्यूरेन हेंड्रिक्स से कंधा टकराने के लिये आधिकारिक चेतावनी दी गयी और उनके खाते में एक ‘डिमैरिट’ अंक जोड़ा गया। कोहली को रविवार को खेले गये मैच में आईसीसी आचार संहिता के लेवल 1 के उल्लंघन का दोषी पाया गया।

पढ़ें:- नंबर-4 पर बल्‍लेबाजी के लिए खड़े हुए पंत-अय्यर, विराट ने दी सफाई

आईसीसी ने बयान में कहा, ‘‘कोहली को खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ के लिये आईसीसी आचार संहिता के अनुच्छेद 2.12 के उल्लंघन का दोषी पाया गया। यह अनुच्छेद किसी अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान खिलाड़ी, खिलाड़ी के सहयोगी स्टाफ, अंपायर, मैच रेफरी या किसी अन्य व्यक्ति (दर्शक सहित) के साथ अनुचित शारीरिक संपर्क से संबंधित है। ’’

यह घटना रविवार को भारतीय पारी के पांचवें ओवर में घटी जब कोहली ने रन लेते समय गेंदबाज ब्यूरेन हेंड्रिक्स से अपना कंधा टकराया था।

आईसीसी के अनुसार कोहली के खाते में एक ‘डिमैरिट’ अंक भी जोड़ा गया है। यह सितंबर 2016 में संशोधित संहिता के लागू किये जाने के बाद कोहली का तीसरा अपराध है। कोहली के अब तीन ‘डिमैरिट’ अंक हो गये हैं। उन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 15 जनवरी 2018 को प्रिटोरिया टेस्ट और अफगानिस्तान के खिलाफ 22 जून 2019 को विश्व कप मैच के दौरान भी एक- एक ‘डिमैरिट’ अंक मिला था।

पढ़ें:- कपिल देव, गावस्‍कर से लेकर गंभीर तक, जानें किस खिलाड़ी से संन्‍यास का सही वक्‍त चुनने में हुई चूक

कोहली को एक और डिमैरिट अंक मिलने पर एक टेस्ट या दो वनडे या दो टी20 मैचों का प्रतिबंध झेलना पड़ सकता है। आईसीसी के नियमों के अनुसार 24 महीने के अंदर चार या इससे अधिक डिमैरिट अंक मिलने पर वे निलंबन अंकों में बदल जाते हैं।

बयान में कहा गया है कि भारतीय कप्तान ने अपनी गलती और मैच रेफरी रिची रिचर्डसन की सजा को स्वीकार कर लिया था और इसलिए औपचारिक सुनवाई की जरूरत नहीं पड़ी। मैदानी अंपायर नितिन मेनन और सी के नंदन, तीसरे अंपायर अनिल चौधरी और चौथे अंपायर सी शम्सुद्दीन ने उन पर आरोप लगाये थे।

लेवल 1 के उल्लंघन पर न्यूनतम सजा आधिकारिक फटकार और अधिकतम खिलाड़ी की मैच फीस का 50 प्रतिशत जुर्माना तथा एक या दो डिमैरिट अंक दिया जाना शामिल है।