Virat Kohli: IPL will have no effect on World cup squad
Virat Kohli (AFP Image)

भारतीय टीम मई के आखिर में शुरू होने वाले आईसीसी विश्व कप के लिए अपना फाइनल स्क्वाड इंडियन प्रीमियर लीग से 12वें सीजन के पहले ही तैयार कर लेगी। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आज दिए बयान में इस बात की पुष्टि की। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कोहली ने बताया कि विश्व कप स्क्वाड पर आईपीएल के प्रदर्शन का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

कप्तान कोहली ने कहा, “मुझे नहीं लगता कि आईपीएल का विश्व कप चयन पर कोई प्रभाव पड़ेगा। आईपीएल में जाने से पहले ही हमें एक मजबूत स्क्वाड तैयार करना है। अगर कुछ खिलाड़ियों का आईपीएल अच्छा नहीं जाता तो वो विश्व कप स्क्वाड से बाहर नहीं होंगे।”

ये भी पढ़ें: सर्जरी के बाद पहली बार मैदान पर लौटे स्टीव स्मिथ, नेट में बल्लेबाजी की

विश्व कप स्क्वाड की बात करें तो टीम इंडिया के सामने इंग्लैंड में फुल पेस अटैक या दोनों स्पिन गेंदबाजों (कुलदीप यादव-युजवेंद्र चहल) में से एक को चुनने का विकल्प होगा। हालांकि कोहली ने साफ कहा कि विपक्षी टीम और स्थितियों को देखने के बाद ही टीम कॉम्बिनेशन के बारे में सोचा जाएगा।

उन्होंने कहा, “विपक्षी टीम पर निर्भर करेगा कि कैसा गेंदबाजी अटैक होगा। कुलदीप और युजवेंद्र चहल मौजूदा समय की सबसे सफल स्पिन जोड़ी हैं। पिछले कुछ सालों में हमारी टीम को मिली सफलता में इन दोनों का बड़ा प्रभाव है। अगर कॉम्बिनेशन बदलता है तो विपक्षी टीमों के बल्लेबाजों (दाएं या बाएं) को देखकर होगा।”

ये भी पढ़ें: भारत के खिलाफ पहले वनडे में विकेटकीपिंग करेंगे एलेक्स केरी !

विश्व कप से पहले भारतीय टीम की ये आखिरी वनडे सीरीज है, ऐसे में टीम मैनेजमेंट प्रयोग करेगा या सीरीज जीतने को तवज्जो देगा, इसके जवाब में कोहली ने कहा, “जीतना तो हमारा फोकस है ही। जिन लोगों को हमें किसी खास स्थिति में प्रदर्शन करते देखना हैं, उन्हें तो हम देखेंगे ही।”

कोहली ने आगे कहा, “पहले मैच में हम इसलिए नहीं जीते क्योंकि हमने खराब प्रदर्शन किया और दूसरे में ऑस्ट्रेलिया ने हमसे बेहतर प्रदर्शन किया। किसी पर इल्जाम लगाने से पहले हार का कारण समझना जरूरी, हमसे ज्यादा टीम की जीत की परवाह किसी को नहीं है लेकिन हमें संतुलन बनाना है। जो एक-दो स्पॉट हैं, उन्हें हम बेहतर करने की कोशिश करते रहेंगे। हमारी सफलता इसी पर निर्भर है। हम हमेशा बेहतर होने को देखते हैं।”

ये भी पढ़ें: हेंड्रिक्‍स और ब्रूएन सीएसए के केंद्रीय अनुबंध में, डुमिनी और ताहिर बाहर

युवा विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत को विश्व कप से पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में वनडे स्क्वाड में वापस लिया गया है और दिनेश कार्तिक को बाहर रखा गया है। बोर्ड का फैसला पंत को विश्व कप से पहले 50 ओवर फॉर्मेट का अनुभव देने की दिशा में बड़ा कदम माना जा रहा है। लेकिन पंत को वनडे प्लेइंग इलेवन में बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज नहीं खिलाया जा सकता क्योंकि वो जगह महेंद्र सिंह धोनी की है।

ऐसे में पंत को स्पेशलिस्ट बल्लेबाज के तौर पर खिलाने के लिए क्या कोहली एक गेंदबाज की कुर्बानी देंगे? इस पर कप्तान ने साफ कहा कि गेंदबाजी अटैक में कोई बदलाव नहीं होगा। कोहली ने कहा, “हमें कॉम्बिनेशन के बारे में सोचना होगा। मुझे नहीं लगता कि एक गेंदबाज कम खिलाने से कोई फायदा होगा। हम दूसरों को मौका देने की कोशिश करेंगे लेकिन गेंदबाजी कॉम्बिनेशन में कोई बदलाव नहीं होगा।”

ये भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे से बाहर हो सकते हैं धोनी

पंत के अलावा केएल राहुल भी ऐसे एक खिलाड़ी हैं, जो विश्व कप के दरवाजे पर दस्तक दे रहे हैं। टीवी शो विवाद के चलते लगे सस्पेंशन के बाद टीम में आते ही राहुल ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 सीरीज में शानदार बल्लेबाजी का नमूना दिखाया। कोहली ने माना कि राहुल ने चयनकर्ताओं के सामने अपना पक्ष मजबूती से रखा है।

कप्तान ने कहा, “केएल जब अच्छा खेलता है तो वो अलग ही स्तर पर होता है। हमने उसे आईपीएल में ऐसा करते देखा है और टीम इंडिया के लिए टुकड़ों में अच्छा करते देखा है। उम्मीद है कि वो लगातार ऐसा करना जारी रखेगा। ये देखना दिलचस्प होगा कि विश्व कप स्क्वाड में क्या फैसला होगा लेकिन उसने अपने लिए मजबूत केस बनाया है।”