Virat Kohli learns from his mistakes, feels Sunil Gavaskar
विराट कोहली ने न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में मैन ऑफ द सीरीज रहे © AFP

न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरे वनडे मैच में विराट कोहली ने अपने करियर का 32वां वनडे शतक लगाया। इसी के साथ कोहली वनडे में सबसे तेज 9,000 रन बनाने वाले खिलाड़ी भी बन गए हैं। कोहली के इस शानदार प्रदर्शन से पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर भी काफी खुश हैं। एनडीटीवी से बातचीत में गावस्कर ने कोहली की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, “बल्ले के साथ कोहली की निरंतरता लाजवाब है। न्यूजीलैंड के खिलाफ शतक लगाने से उसे कोई नहीं रोक सकता था। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वह शतक नहीं लगा पया लेकिन उसने इससे सबक लिया। न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में वह थर्ड मैन की तरफ खेलकर सिंगल निकालने की कोशिश नहीं कर रहा था, जैसा उसने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में किया था”

दरअसल कोहली जब बल्लेबाजी करने आते हैं तो शुरुआत की गेंदों पर वह थर्ड की तरफ खेलकर एक या दो रन निकालने की कोशिश करते हैं। ऑस्ट्रेलियाई टीम ने उनकी इसी आदत का फायदा उठाया और उन्हें कई बार कैच आउट किया। गावस्कर ने बताया कि कोहली जल्दी सीखने वालों में से हैं इसलिए उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ ये गलती नहीं दोहराई। और यही उनके लगातार अच्छे प्रदर्शन का राज है। गावस्कर ने कहा, “विराट कोहली के लगातार अच्छे प्रदर्शन की सबसे बड़ी वजह ये है कि वह अपनी गलतियों से सीखता है।”

लगातार 4 साल से वनडे में भारत के सबसे बड़े बल्लेबाज हैं रोहित शर्मा
लगातार 4 साल से वनडे में भारत के सबसे बड़े बल्लेबाज हैं रोहित शर्मा

पूर्व टेस्ट कप्तान ने आगे कहा, “ऐसा कई बार होगा जब आप एक ही तरीके से आउट होगे क्योंकि यही क्रिकेट का खेल है। लेकिन अगर आपने कोई गलती की है तो आप उसे आगे ना दोहराने की कोशिश करोगे। गेंदबाज आपको आउट करेंगे क्योंकि वो आपको अच्छी गेंद डालेंगे। यह स्वीकार करना होगा लेकिन जरूरी है कि गलतियों से सीखकर उन्हें दोहराने से बचा जाय, इसी वजह से कोहली लगातार अच्छा प्रदर्शन करता है।”